महिला कांग्रेस का 37 वां स्थापना दिवस प्रत्येक जिले में मनाया गया एवं महिला कांग्रेस का झंडा फहराया गया : फूलोदेवी नेताम

रायपुर।  महिला कांग्रेस  राष्ट्रीय अध्यक्ष सुश्री सुष्मिता देव के निर्देश पर आज 15 सितंबर को महिला कांग्रेस अपना 37 वां स्थापना दिवस महिला कांग्रेस छत्तीसगढ़ प्रदेश अध्यक्ष व सांसद राज्यसभा सदस्य श्रीमती फूलोदेवी नेताम के नेतृत्व मे  प्रत्येक जिले के कार्यालयों में महिला कांग्रेस का झंडा फहराये गये।

श्रीमती फूलोदेवी नेताम ने कहा कि महिला कांग्रेस को झंडे देकर मा. राहुल गांधी जी व महिला कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष सुश्री सुष्मिता देव ने महिला कांग्रेस को अलग पहचान दिए है। जिस तरह देश मे राहुल गांधी ने महिलाओं के सशक्तिकरण के लिये देशव्यापी मुहिम छेड़ी है उससे महिलाओं का कांग्रेस के प्रति विश्वास बढ़ा है। महिला कांग्रेस का दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन बंगलोर में 15 से 16 सितंबर 1983 में हुआ था। जिसका उद्घाटन स्व.इंदिरा गांधी जी ने किया था और समापन स्व.राजीव गांधी जी उद्बोधन से हुआ था। जिसमे एक नए संविधान को अपनाते हुए महिला कांग्रेस सेल को स्वायत्ता दे कर आल इंडिया महिला कांग्रेस नाम दिया गया। आल इंडिया महिला कांग्रेस, ए.आई.सी.सी के अंतर्गत ए.आई.सी.सी अध्यक्ष की अनुमति से 15 सितंबर 1983 से स्वतंत्र कार्य करने लगी। प्रभारी श्रीमती शकुन्तला डहरिया के उपस्थिति में  शहर जिला अध्यक्ष श्रीमती आशा चौहान, महिला कांग्रेस  द्वारा मुख्यालय कांग्रेस भवन गांधी मैदान में  महिला कांग्रेस का झंडा फहराया गया। महिला कांग्रेस के 37 वें स्थापना दिवस के इस ऐतिहासिक मौके पर  मजदूरों को  मास्क का वितरण किया गया। पीसीसी कार्यकारिणी सदस्य प्रभारी छत्तीसगढ़ महिला कांग्रेस श्रीमती ममता राय, अर्पणा फ्रांसिस, सुश्री कल्पना सागर, श्रीमती गंगा यादव, श्रीमती कविता बघेल,श्रीमती सारा खान,राहत परवीन, शेरिन बेगम, नंदा मानिकपुरी ,सुषमा यादव, सुषमा ध्रुव, शिल्पी राय, हेमलता साहू आदि महिलाएं उपस्थित थी।

error: Content is protected !!