कोचिए और व्यापारी औने-पौने दाम पर मक्का खरीद किसानों की विवशता का नाजायज लाभ उठा रहे : उसेंडी

०० किसानों के हित में शीघ्र ही फैसला नहीं लेने पर भाजपा-भाजयुमो का किसानों के साथ आन्दोलन होगा

०० मक्का की सरकारी ख़रीदी अथवा नेकाफ (एनजीओ) के माध्यम से ख़रीदी की व्यवस्था की जाए : भाजपा

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के निवर्तमान प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने किसानों को रबी पसल में उत्पादित मक्का की सरकारी ख़रीदी अथवा नेकाफ (एनजीओ) के माध्यम से ख़रीदी करने की मांग की है। श्री उसेण्डी ने मक्का फसल की ख़रीदी 1800 रु. प्रति क्विंटल की दर से करने की मांग करते हुए कहा कि किसानों के हित को देखते हुए यथाशीघ्र यह व्यवस्था की जानी चाहिए।
भाजपा के निवर्तमान प्रदेश अध्यक्ष श्री उसेण्डी ने प्रदेश की राज्यपाल सुश्री अनुसुइया उईके और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को कांकेर जिले के परलकोट (पखांजूर) क्षेत्र के किसानों, भाजपा व भाजयुमो द्वारा सौंपे गए उक्ताशय के ज्ञापन के बारे में बताया और कहा कि क्षेत्र के किसानों ने सरकारी खरीदी या नेकाफ के माध्यम से मक्का की 1800 रु. प्रति क्विंटल की दर से खरीदी करने की मांग की है। श्री उसेण्डी ने कहा कि यह व्यवस्था होने पर किसानों को फसल का सही दाम और पारिश्रमिक मिल सकेगा। फिलहाल यह व्यवस्था नहीं होने के कारण कोचिए और व्यापारी किसानों से यह मक्का हजार-12सौ रुपए प्रति क्विंटल की दर पर औने-पौने खरीद रहे हैं और किसानों की विवशता का नाजायज लाभ उठाकर उन्हें आर्थिक नुकसान पहुँचा रहे हैं। भाजपा के निवर्तमान प्रदेश अध्यक्ष श्री उसेण्डी ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा मक्का की सरकारी या नेकाफ के माध्यम से खरीदी की व्यवस्था नहीं होने के कारण एक ओर जहाँ किसान आर्थिक दिक्कतों से दो-चार हो रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ कर्ज के बोझ तले दबे किसानों के सामने आत्मघाती फैसला लेने के अलावा और कोई विकल्प नहीं रह गया है। श्री उसेण्डी ने चेतावनी दी कि किसानों के हित में शीघ्र ही कोई फैसला सरकार नहीं लेती है तो भाजपा और भाजयुमो द्वारा किसानों को साथ लेकर बड़ा आन्दोलन पखांजूर क्षेत्र में किया जाएगा। श्री उसेण्डी ने बताया कि राज्यपाल व मुख्यमंत्री को यह ज्ञापन क्रमशः पार्टी और राजस्व अनुविभागीय अधिकारी केमाध्यम से प्रेषित किया गया है।

error: Content is protected !!