विद्युतकर्मी, स्वास्थ्यकर्मी, पुलिसकर्मी तथा नगर निगम के सफाईकर्मी पर हमें गर्व है : कांग्रेस 

०० हम धन्य है जो आम जनता को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने में सहयोग किया है  प्रशंसनीय

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता एम.ए. इकबाल ने छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत कपंनीज के 11500 कर्मचारियों और अधिकारियों के कार्यो की प्रशंसा की। 70 दिन के लाकडाउन पिरियड समाप्त होने के बाद 1 जून से जीवन सामान्य रूप से आने की स्थिति में समीक्षा करते हुये कहा कि पावर कंपनी के लगभग स्वीकृत स्टाफ के आधे से कम संख्या में होने के बावजूद उन्होने विद्युत उत्पादन पारेषण और वितरण के क्षेत्र में प्रशंसनीय कार्य किया। कोरोना संक्रमण काल में विद्युत विभाग के कर्मचारियों ने अथक परिश्रम कर बिजली आपूर्ति को संभाले रखा। प्रदेश में 1 लाख 81 हजार के लगभग ट्रांसफार्मर स्थापित है, जिसमें से कोरोना काल में लगभग 1 हजार फेल हो गये, जिसे त्वरित गति से सुधारा गया एवं विद्युत आपूर्ति को बाधित किये बिना आपूर्ति जारी रखी। पूरे प्रदेश में 1,92,325 कि.मी. की लाईन की देखरेख का जिम्मेदारी वाला कार्य किया। कोरबा की ताप विद्युत गृहों से 2900 मेगावाट की बिजली का उत्पादन कर प्रदेश में मांग के अनुरूप आपूर्ति की जाती रही। पारेषण कंपनी ने पूरे प्रदेश में 121 ई.एच.वी. के ट्रांसफार्मर के माध्यम से प्रदेश में विद्युत के पारेषण का कार्य किया। उल्लेखनीय है कि इस अवधि में खरसिया में चकले में 2ग47 डट। के ट्रांसफार्मर जो खराब हो गया था को तत्काल विभागीय तौर पर सुधारा गया एवं विद्युत आपूर्ति की गयी जिससे पावर कंपनी को करोड़ों रू. की बचत हुयी। साथ ही साथ पारेषण कंपनी द्वारा सिमगा में 5.5 एम.वी.ए. मंदिर हसौद में 24.5 एम.वी.ए. के ट्रांसफार्मर लगाए तथा जगदलपुर कोण्डागांव में 132 केवी मल्टी सर्किट ट्रांसफार्मर लगाये गये जिससे वहां की बिजली आपूर्ति को सुदृढ़ीकरण का कार्य किया गया।
प्रदेश प्रवक्ता एम.ए. इकबाल ने स्वास्थ्य विभाग के कार्यो का उल्लेख करते हुये कहा कि स्वास्थ्यकर्मी जिन्होने कोरोना के भयंकर संक्रमण काल में लोगों के इलाज एवं जान बचाने में जी-तोड़ मेहनत की। बीमारी से लड़ने के लिये स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर्स एवं नर्सिंग स्टाफ तत्परता के साथ खड़े रहे। विशेषकर रायपुर के ‘‘एम्स’’ अस्पताल में मरीजों की दिन-रात सेवा करके उनकी जान बचायी जिसकी प्रशंसा पूरे देश में हुयी। पुलिस विभाग- पुलिस एक ऐसा विभाग है जिससे जनता को हमेशा शिकायत रहती है। परंतु कोरोना संक्रमण काल में जिस अनुशासन एवं सेवा भाव से दिन-रात कार्य किया और लोगो को कोराना के संक्रमण से बचाया वह उल्लेखनीय है। इस संक्रमण काल में चोरी, डकैती एवं अन्य अपराधों के साथ-साथ जनता की सुरक्षा के दायित्व का भी भलीभांति निर्वहन करते रहे। प्रदेश प्रवक्ता एम.ए. इकबाल ने आगे कहा कि नगर निगम के सफाई कर्मचारी- कोरोना संक्रमण काल में जहां लोग सोशल डिस्टेंसिंग क्वारेंटाईन तथा आईसोलेशन जैसे बचाव के उपायो से अपने आप को सुरक्षित करने में लगे थे वहीं ये सफाई कर्मी लोगों के घरों के गंदगी और कचरे को साफ करके वातावरण को स्वच्छ करके संक्रमण से बचाने में दिन-रात प्रयासरत थे। यही कारण है कि कोरोना का संक्रमण विशेषकर छत्तीसगढ़ प्रदेश में ज्यादा नहीं बढ़ पाया। पूरे देश में अन्य राज्यों की तुलना में छत्तीसगढ़ प्रदेश कम संक्रमित हुआ, वहीं संक्रमित मरीज के इलाज से लगभग 100ः ठीक होकर घर वापस गये। प्रदेश में कोरोना से मृत्युदर भी नगण्य रही। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी इन समस्त विभाग जिसमें विद्युत, स्वास्थ्य, पुलिस तथा नगर निगम के सफाई कर्मचारी के कार्यो की भूरी-भूरी प्रशंसा करते है तथा उन पर हम गर्व करते है और प्रदेश की जनता इनके कार्यो की वजह से अपने को धन्य समझती है।

 

error: Content is protected !!