मोदी सरकार के कुप्रबंधन और गलत फैसलों के कारण देशभर और छत्तीसगढ़ के मजदूर और उनके मासूम बच्चें एवं गर्भवती महिलायें हुयी कोरोना वायरस से सक्रमित : कांग्रेस

०० मजदूर लॉकडाऊन वन में ही घर पहुंच जाते तो कोरोना महामारी से संक्रमण का शिकार नहीं होते

०० घर वापसी के प्रयास में दुर्घटना और कोरोना महामारी संक्रमण से हुयी मजदूरोंगर्भवती महिलाओंमासूम बच्चों की मौत के लिये मोदी-भाजपा सरकार जिम्मेदार

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने मजदूरों एवं मजदूर के परिवार के मासूम बच्चों, गर्भवती महिलाओं के कोरोना संक्रमित होने के लिये केन्द्र की मोदी, भाजपा सरकार को जिम्मेदार ठहराया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लाकडाउन वन में ही देशभर में फंसे मजदूरों की सकुशल घर वापसी की मांग मोदी सरकार से किये थे। मजदूरों के घर वापसी की मांग पर मोदी सरकार ने सहानभूति पूर्वक विचार करती और मजदूरों को मद्द की होती तो लाकडाउन वन में ही मजदूर अपने परिवार सहित अपने घर में होते, कोरोना महामारी के संकट से दूर होते मजदूरों के मासूम बच्चे और गर्भवती महिलाओं की कोरोना महामारी के चपेट में आने से अकाल मृत्यु नहीं होती। मोदी भाजपा सरकार के कुप्रबंधन और गलत फैसलों के कारण ही पूरे देश सहित छत्तीसगढ़ के मजदूरों को अमानवीय कष्ट और अकारण दुख झेलना पड़ा। घर वापसी के प्रयास कर रहें मजदूर और उनके परिवार नंगे पांव, भूखे प्यासे भटकते हुये सड़को, रेल पटरियों में हादसो के शिकार होने और उनकी मौत तक की दर्दनाक घटनायें सामने आयी।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि किसान, मजदूर विरोधी भाजपा अब मजदूरों के नाम से घड़ियाली आंसू बहाना और झूठी हमदर्दी जताना बंद करें। भाजपा तब कहा थी, जब मोदी सरकार के द्वारा अचानक किये गये लॉक डाउन और बस ट्रेन के बंद होने से छत्तीसगढ़ सहित देशभर के मजदूर दूसरे राज्यों के संक्रमित एरिया में 2 माह तक फंसे रहे? मजदूर लाकडाउन में भूखे, प्यासे रहे उनकी रोजी-रोटी का नुकसान हुआ। मजदूरों के बच्चो एवं गर्भवती महिलाओं को समय पर दूध और दवाइयां नही मिल रही थी। देशभर में कई जगहों पर मजदूरों को काम करने के बाद प्रबंधन और नियजकों द्वारा पैसा नही दिया गया। तब भाजपा मौन थी और मौन रह कर मोदी सरकार के द्वारा मजदूरों के साथ बरती जा रही अमानवीय व्यवहार का तमाशाबीन बनी थी। पूंजीवादी समर्थक भाजपा कभी नहीं चाहती थी कि लॉक डाउन में दूसरे राज्यों में फंसे देशभर के मजदूर अपने माटी अपने घर वापस लौटे सके। कई बार भाजपा के नेता, मजदूरों के घर वापसी से अर्थव्यवस्था बिगड़ने की बातें सार्वजनिक रूप से कह चुके हैं। सड़कों पर भटकते मजदूरों को छुट्टी बिताने घर जाने जैसे तंज कस चुके हैं। भाजपा के द्वारा षड्यंत्र कर मजदूरों के घर वापसी पर अड़ंगा लगाया जा रहा था अब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार के प्रयासों से दूसरे राज्य में फंसे छत्तीसगढ़ के मजदूर अपने घर पहुंच चुके हैं ऐसे में भाजपा द्वारा आपदा में राजनीति के अवसर तलाशने की कांग्रेस कड़ी निंदा करती है।

 

error: Content is protected !!