आपदा में फंसे थे मजदूर तो भाजपा नेता थे मौन छत्तीसगढ़ सकुशल पहुंचने पर जता रहे है हमदर्दी : कांग्रेस

०० भाजपा नेता पेड वर्करों के लिखे झूठे तथ्यहीन बयान के सहारे वातानुकूलित कमरे में बैठकर मजदूरों के नाम से राजनीति कर रहे हैं : कांग्रेस

०० गरीबों, मजदूर किसानों और छत्तीसगढ़ के हितों-हकों के प्रति वफादार नहीं है भाजपा के 9 सांसद

०० संकटकालीन दौर पर छत्तीसगढ की जनता के प्रति जिम्मेदारियों का निर्वहन भाजपा के 9 लोकसभा सदस्यों ने क्यों नही किया ?

०० मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के समसामयिक निर्णयों ठोस नीति और दूरदर्शिता के चलते छत्तीसगढ़ में कोरोना महामारी नियंत्रित

रायपुर| प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा है कि भाजपा के 9 सांसद छत्तीसगढ़ के हितों-हकों और गरीबों, मजदूर किसानों प्रति वफादार नहीं रहे संकटकालीन दौर में जनता के प्रति अपनी जिम्मेदारियों का ठीक से निर्वहन नहीं कर पाए है? मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार की दूरदर्शिता समसामयिक निर्णय और ठोस नीति के बदौलत छत्तीसगढ़ को कोरोना महामारी को नियंत्रित रख पाने में सफलता मिली है।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार के द्वारा कोरेना महामारी को नियंत्रित करने किए गए उपायों  कार्यों की प्रशंसा देश ही नहीं विदेश में भी हो रही है।वही भाजपा के नेता वातानुकूलित बंद कमरे में बैठकर पैड वर्करों के लिखे बयान के आधार पर कोरेना महामारी के खिलाफ अपने जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रहे।हकीकत में भाजपा नेताओ को धरातल का ज्ञान नही है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार के प्रयास से दूसरे राज्यों में फंसे छत्तीसगढ़ के श्रमिकों की बसों,ट्रेनों  से सकुशल घर वापसी हो रही है। जब मजदूर आपदा में फंसे थे तब भाजपा के सांसद विधायक और नेता  मौन थे आज छत्तीसगढ़ में मजदूरों की सकुशल वापसी हो रही है  तो भाजपा के नेता झूठी हमदर्दी दिखाकर मजदूरों के नाम से राजनीति कर रहे है। आपदा में अवसर ढूंढने वाले भाजपा के नेता मजदूरों की मदद कर  नहीं बल्कि झूठ फरेब के सहारे राजनीति करना चाह रहे हैं।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मोदी सरकार के खिलाफ देशभर में भड़के जन आक्रोश मजदूरों की गहरी नाराजगी और कोरोना महामारी को नियंत्रित करने में असफलता से भाजपा को अपनी राजनीतिक धरातल खिसकते नजर आ रही है। जनता भाजपा नेताओ की कोरी बयानबाजी नही बल्कि भाजपा के 9 सांसद और विधायकों से विपत्ति के समय संकट काल में छत्तीसगढ़ के श्रमिकों मजदूरों किसानों व्यापारियों महिलाओं छात्रों के लिए उनका अब तक का क्या योगदान है जानना चाह रही है? जनता भाजपा के सांसदों से पूछ रही है की महामारी संकट से निपटने छत्तीसगढ़ सरकार को कितना आर्थिक मदद  किये है ? कितना संसाधनों से मदद किए हैं?  महामारी संकट के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे  चिकित्साक पुलिस के जवान  जिला प्रशासन के अधिकारी  समाजसेवी संगठनों  के प्रति भाजपा सांसदों विधायको ने घर बैठकर  जो ताली थाली और दीया जलाकर आभार व्यक्त किया है जनता इससे सन्तुष्ट नही है?भाजपा मजदूरों को खाना खिलाने घर तक पहुंचाने के बजाय सिर्फ और सिर्फ राजनीति कर रही है? भाजपा के नेता महामारी संकटकाल में आपदा में फंसे मजदूरों को मदद करने के बजाय राजनीति करने का अवसर तलाश रहे हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!