मंत्री डॉ. डहरिया ने तालाबों, नदी-नालों को स्वच्छ रखने जागरूकता के लिए ’विवेकानंद सरोवर’ में किया श्रमदान

0 तालाबों में गंदा पानी न जायें, इसकी व्यवस्था सुनिष्चित करने के डाॅ. डहरिया के निर्देष 0

0 लगभग 10 दिन से लगातार जारी सफाई महाभियान में निगम ने 700 डम्पर से अधिक जलकुंभी व गाद बाहर निकाली 0

रायपुर| नगरीय प्रषासन एवं विकास  एवं श्रम मंत्री डाॅ. षिव कुमार डहरिया ने राजधानी रायपुर के 14 वीं सदी के ऐतिहासिक बूढातालाब स्वामी विवेकानंद सरोवर पहुंचकर तालाब से जलकुंभी व गाद निकालने के सफाई महाभियान में सक्रिय भागीदार दर्ज करवाते हुए राजधानी शहर के प्रथम नागरिक महापौर श्री एजाज ढेबर सहित निगम आयुक्त श्री सौरभ कुमार, एमआईसी सदस्य सर्वश्री नागभूषण राव, रितेष त्रिपाठी, सतनाम सिंह पनाग, जितेन्द्र अग्रवाल, सुरेष चन्नावार, पार्षद श्री प्रमोद मिश्रा, श्री मन्नू यादव, पूर्व पार्षद श्री मनोज कंदोई, सामाजिक कार्यकर्ता श्री नवीन चंद्राकर, श्री भोला तिवारी, श्री सैय्यद उमेर, निगम अपर आयुक्त श्री पुलक भट्टाचार्य, जोन 7 कमिष्नर श्री विनोद पाण्डेय, जोन कार्यपालन अभियंता श्री रधुमणी प्रधान, जोन स्वास्थ्य अधिकारी श्री बारोन बंजारे, उपअभियंता श्री नरेष साहू सहित संबंधित निगम अधिकारियों, आमजनों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, गणमान्यजनों, ग्रीन आर्मी रायपुर के पर्यावरण प्रेमी सदस्यों की उपस्थिति में सफाई श्रमदान किया एवं समाज हित में पर्यावरण संरक्षण हेतु स्वच्छ तालाब एवं स्वच्छ पर्यावरण का सकारात्मक संदेष सभी नागरिको को दिया।

नगरीय प्रषासन एवं विकास मंत्री डाॅ. डहरिया ने राजधानी शहर की ऐतिहासिक धरोहर 14 वीं सदी के बूढातालाब स्वामी विवेकानंद सरोवर को जलकुंभी एवं गाद से मुक्त करवाने नगर निगम रायपुर के सफाई महाभियान को लेकर महापौर श्री एजाज ढेबर सहित निगम के जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों की सकारात्मक सोच व कार्यप्रणाली की सराहना की। उन्होने कहा कि पिछले लंबे अर्से से रायपुर का बूढातालाब उपेक्षित था एवं जलकुंभी से अटा पडा था। ऐसे में महापौर श्री ढेबर ने समाज हित में पर्यावरण संरक्षण हेतु बूढातालाब की ऐतिहासिक धरोहर की सफाई व सौंदर्यीकरण कर उसको पुनर्जीवित करने प्रण पूर्वक जो कार्य करवाया है । उसके लिए वाकई महापौर श्री ढेबर व उनकी कार्यप्रणाली की सराहना की जानी चाहिए। नगरीय प्रषासन एवं विकास मंत्री डाॅ. डहरिया ने रायपुर नगर निगम के अधिकारियों को निर्देषित किया कि बूढातालाब के भीतर गंदा पानी जाने से रोकने का प्रबंधन तत्काल करवाये एवं इसके लिए आवष्यक कदम अविलंब उठाये। मंत्री डाॅ. डहरिया ने कहा कि बूढातालाब की तरह राजधानी के अन्य तालाबों को एक-एक करके गंदगी व जलकुंभी से मुक्त करवाकर वहां स्वच्छता स्वास्थ्यवर्धक वातावरण कायम कर समाज हित में पर्यावरण संरक्षण हेतु कार्य योजना के तहत नगर निगम रायपुर के माध्यम से राज्य शासन के नगरीय प्रषासन एवं विकास विभाग द्वारा करवाया जायेगा। राजधानी के तालाबों को व्यवस्थित योजना के माध्यम से पुनर्जीवित कर उनका संरक्षण व संवर्धन का कार्य पर्यावरण सुरक्षा की दृष्टि से प्राथमिकता से करवाया जायेगा। निगम अधिकारियों ने बताया कि महापौर श्री एजाज ढेबर के निर्देष पर ऐतिहासिक बूढातालाब स्वामी विवेकानंद सरोवर के भीतर से जलकुंभी व गाद निकालने विगत 11 मई से लगातार 10 दिन में 11 ट्रकों, 7 पोकलेन मषीनों, 50 विषेषज्ञ मछुआरों, निगम जोन 7 स्वास्थ्य विभाग, निगम मुख्यालय स्वास्थ्य विभाग, निगम मुख्यालय महापौर स्वच्छता हेल्प लाईन के 85 सफाई मित्रों एवं अतिरिक्त 30 ठेका सफाई मित्रों को मिलाकर 165 श्रमिकों की सहायता से 11 मई से प्रतिदिन सुबह 8 बजे से दोपहर 1 बजे तक एवं संध्या 4 बजे से 5 बजे तक प्रतिदिन 6 घंटे सफाई करवाकर जलकुंभी, गाद निकालकर अब तक लगभग 700 से अधिक डम्पर मात्रा में बूढातालाब के भीतर से जलकुंभी व गाद निकालकर उसका परिवहन करवाया जा चुका है। महापौर श्री ढेबर के आव्हान पर रायपुर ग्रीन आर्मी  के 25 पर्यावरण प्रेमी सदस्यों द्वारा एवं सामाजिक संगठनों एवं आमजनों द्वारा सफाई श्रमदान किया जा रहा है। महापौर श्री ढेबर एमआईसी सदस्यगण, पार्षदगण प्रतिदिन सफाई श्रमदान कर रहें है। महापौर श्री ढेबर एवं आयुक्त श्री कुमार प्रतिदिन पहुंचकर सफाई महाभियान का निरीक्षण कर समीक्षा सहित आवष्यक निर्देष संबंधित निगम अधिकारियों को दे रहे है। सफाई महाभियान से बूढातालाब का स्वरूप स्वच्छ व बदला -बदला सा स्पष्ट परिलक्षित हो रहा है। महापौर श्री ढेबर ने बूढातालाब से सम्पूर्ण जलकुंभी व गाद निकालने एवं सफाई हेतु 25 मई 2020 की समय सीमा निर्धारित की है। इसके बाद तत्काल बूढातालाब की सफाई व गहरीकरण सहित सौंदर्यीकरण, संरक्षण, संवर्धन का कार्य प्रारंभ होगा एवं बूढातालाब को नगर निगम रायपुर एवं रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के माध्यम से राजधानी शहर का सबसे सुन्दर स्थल के रूप में विकसित करने का कार्य समय सीमा तय कर प्राथमिकता से किया जायेगा।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!