सूरजपुर नया हॉटस्पॉट: एक दिन में मिले 10 कोरोना पॉजिटिव, एक पुलिस जवान भी शामिल

रायपुर| सरगुजा संभाग का सूरजपुर जिला कोरोना और प्रदेश का सबसे हॉट स्पॉट बन गया है। यहां बीते 24 घंटे में 10 लोगों में संक्रमण पाया गया है। इनमें से 9 लोगों में वायरस की पुष्टि रैपिड डायग्नोस्टिक (आरडी) कीट से हुई। जांच में हुई इनमें से एक पुलिस जवान भी शामिल है। जिसकी ड्यूटी इस आश्रित शिविर में थी। लॉकडाउन के बाद दूसरे राज्यों के मजदुर जो सूरजपुर में आकर फंस गए थे इन्हें आश्रित शिविर में रखा गया था।

मंगलवार देर रात जैसे ही यह खबर सूरजपुर से निकलकर रायपुर तक पहुंची तो सरकारी तंत्र में हड़कंप मच गया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव को इस पूरे मामले की जानकारी दी गई। उधर, सूरजपुर को देर रात पूरी तरह से सील कर दिया गया है। क्योंकि इसकी सीमा पड़ोसी राज्यों से मिलती है। सूरजपुर के सभी आश्रित शिविरों में ठहराए गए मजदूरों के रैपिड किट से जांच के आदेश जारी किए गए हैं। बता दें कि मंगलवार को पंडित जवाहरलाल नेहरू मेमोरियल मेडिकल कॉलेज से जारी रिपोर्ट के मुताबिक सूरजपुर से भेजे गए सैंपल में से एक में वायरस की पुष्टि हुई, यह मजदुर झारखंड का रहने वाला है। इस रिपोर्ट में सामने आने के बाद तत्काल स्वास्थ्य संचालक नीरज बंसोड़ ने करोना कंट्रोल एंड कमांड सेंटर में 4 सदस्य कमिटी सूरजपुर के लिए रवाना किया। यहां स्पष्ट कर दें कि इन 9 लोगों में वायरस अभी भी है कि नहीं इसके लिए इनके सैंपल लेकर रायपुर आरटी पीसीआर (लैब) टेस्ट के लिए भेजा जा रहे हैं| आरटी- पीसीआर जांच में जिस मजदुर की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। वह गढ़वा झारखण्ड का रहने वाला है। जो मजदूरी के लिए महाराष्ट्र से होते हुए छत्तीसगढ़ आया था। यह पहले राजनांदगांव आया वहां से कवर्धा फिर सूरजपुर जा पहुंचा। जहां उसे आश्रित शिविर में रखा गया 3 दिन पहले सर्दी जुकाम की शिकायत पर उसे सैंपल के लिए गए और जांच में संक्रमण की पुष्टि हुई। इससे ही कोरोना का सोर्स माना जा रहा है।

error: Content is protected !!