कोविड-19 वैश्‍विक महामारी के खिलाफ लड़ रहे योद्धाओं के समर्थन में एसोसिएशन ऑफ 41 क्‍लब्‍स ऑफ इंडिया ने 10 करोड़ से अधिक का दान देने का लिया निर्णय

०० पीपीई, मास्क और दस्ताने के लिए निर्धारित 6 करोड़ रुपये के अलावा 5 करोड़ रुपये का अतिरिक्‍त फंड जुटाने का संकल्‍प

एसोसिएशन ऑफ 41 क्लब्स ऑफ इंडिया, वैश्‍विक महामारी कोविड 19 के प्रसार के खिलाफ सबसे आगे रह कर लड़ने वाले कार्यकर्ताओं की सहायता के लिए 6 करोड़ रुपये से अधिक के मूल्‍य के पीपीई, मास्क, दस्ताने और अन्य अन्य सुरक्षा सामग्री वितरित कर रहा है। संगठन ने 1 मिलियन से अधिक लोगों को 8 लाख से अधिक पका हुआ तैयार भोजन और 60,000 साप्ताहिक राशन पैकेट प्रदान किया है। संगठन के स्वयंसेवक वरिष्ठ नागरिकों के घर तक पहुंच कर उनको पका हुआ भोजन और किराने का सामान भी उपलब्ध करा रहे हैं।

अगले चरण में, एसोसिएशन ऑफ 41 क्लब्स ऑफ इंडिया डॉक्टरों, नर्सों और वार्ड बॉय आदि मेडिकल बिरादरी तथा पुलिस और सैनिटेशन वकर्स को व्यापक आधार पर मास्क, दस्ताने और पीपीई किट (उच्‍च जोखिम वाले और कम जोखिम वाले) जैसी सुरक्षा सामग्री मुहैया करा रहा है, ताकि कोरोनोवायरस के खिलाफ लड़ाई जारी रखते हुए वे सुरक्षित रह सकें। 5 करोड़ रुपये का एक अतिरिक्‍त फंड जुटाया जा रहा है, जिसका उपयोग कोरोनावायरस के संपर्क में आने के खतरों से जूझ रहे लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के उद्देश्‍य से पीपीई और अन्य सुरक्षा सामग्री प्रदान करने के लिए किया जाएगा। इस अवसर पर, एसोसिएशन ऑफ 41 क्लब्स ऑफ इंडिया के प्रेसिडेंट श्री बाबाजी ने कहा कि ‘‘इस चुनौतीपूर्ण वक्‍त के दौरान, 41 क्‍लब्‍स के सदस्य देश भर में प्रभावितों को तत्काल सहायता प्रदान करने के लिए एकजुट हैं। ये सदस्य जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए मैदान में सक्रिय हैं। 41 क्लब्स ऑफ इंडिया का 3 दशकों से अधिक समय से व्यापक सामुदायिक सेवा करने का ट्रैक रिकॉर्ड है। इस प्रयास में कई भारतीय और बहुराष्ट्रीय कंपनियां वित्तीय रूप से हमारा सहयोग करने के लिए आगे आई हैं।’’

एसोसिएशन ऑफ 41 क्‍लब्‍स ऑफ इंडिया :- एसोसिएशन ऑफ 41 क्‍लब्‍स ऑफ इंडिया अखिल भारतीय संगठन है, जिसके 3000 से अधिक एचएनआई सदस्य 70 से अधिक शहरों में मौजूद हैं। बेहतर भारत बनाने की दिशा में काम करने के मूल उद्देश्य के साथ, 41 क्‍लब्‍स ऑफ इंडिया, 41 इंटरनेशनल का हिस्सा हैं और विश्‍व के 28 देशों में इसका प्रतिनिधित्व है।

 

error: Content is protected !!