लोगों के भीतर विश्वास पैदा करें, हम कोरोना की  लड़ाई अवश्य जीतेंगे: सुश्री उइके

०० राज्यपाल ने कोरबा कलेक्टर से कोविड-19 संक्रमण के स्थिति की ली जानकारी

०० प्रशासन द्वारा किये जा रहे कार्यों की सराहना की, की हौसला अफजाई

रायपुर| राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके ने फोन पर कोरबा कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल से कटघोरा के हालात के संबंध में चर्चा की। राज्यपाल ने कहा कि कटघोरा अभी कोविड हॉटस्पॉट है। छत्तीसगढ़ में कोविड की लड़ाई जीतनी है तो सबसे पहले कटघोरा में स्थिति काबू में लानी होगी। मैं सतत रूप से हालात पर नजर रखे हुए हूँ और अब तक की गई समीक्षा में मैंने पाया है कि आपने शानदार काम किया है। एक महिला के रूप में आपने यह भी साबित किया कि महिलाएं नेतृत्व क्षमता का शानदार उदाहरण प्रस्तुत कर रही हैं। कोरोना की इस लड़ाई में हम हर क्षण बेहतर रणनीति के साथ काम करने की कोशिश करें। देश के दूसरे जगह जो हॉटस्पॉट हैं वहां किस प्रकार रणनीति बनाई गई उसे भी ध्यान दें। आपको जिस तरह का संसाधन चाहिए, उससे अवगत कराएं।

राज्यपाल ने कहा कि इस लड़ाई में लोगों के भीतर विश्वास पैदा करना बेहद आवश्यक हैं। लोग पैनिक में होंगे, उनका डर दूर करना है। साथ ही इसके जोखिम के बारे में भी बताना है। जिस तरह से आप चीजों को हैंडल कर रही हैं। वो शानदार है। हम हर समय आपकी मदद के लिए और मार्गदर्शन के लिए खड़े हैं। कोरोना के विरुद्ध इस लड़ाई में हम निश्चय ही विजेता के रूप में उभरेंगे।
कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने राज्यपाल सुश्री उईके को धन्यवाद दिया और जरूरी जानकारी तथा वर्तमान स्थिति से उन्हे अवगत कराया। कलेक्टर ने राज्यपाल सुश्री उईके को बताया कि जिले में अब तक 814 लोगों के सेम्पल कोविड-19 की जांच के लिए एम्स रायपुर भेजे जा चुके हैं। जिनमें से केवल 22 नमूने ही संक्रमित पाये गये है। संक्रमित लोगों को जांच रिपोर्ट प्राप्त होते ही तत्काल पूरी सावधानी के साथ रायपुर के एम्स में ईलाज के लिए भेज दिया गया है। कलेक्टर ने यह भी बताया कि जिले से भेजे गये दो संक्रमित एम्स में ईलाज के बाद पूरी तरह से ठीक होकर अपने घर वापस लोैट गये हैं। श्रीमती कौशल ने राज्यपाल सुश्री उईके को कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिले में किये जा रहे कामों की पूरी जानकारी भी दी।

 

 

error: Content is protected !!