सियासी संक्रमण ने कोरोना का ख़तरा और बढ़ा दिया है : भाजपा

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा कोरोना की रोकथाम में केन्द्र सरकार पर विफलता का आरोप लगाने को गिरी हुई राजनीतिक सोच का परिचायक बताया है। श्री उपासने ने कहा कि परिवार की तीमारदार करने की अपनी कांग्रेसी परम्परा का निर्वहन करके मुख्यमंत्री बघेल कोरोना के संक्रमण से ज्यादा सियासी संक्रमण का खतरा पैदा कर रहे हैं।
भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्री उपासने ने कहा कि मुख्यमंत्री बघेल का यह दावा बेहद हास्यास्पद है कि प्रदेश सरकार कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की सलाह पर मार्च के पहले हफ्ते में ही सतर्क हो गई थी और वह महामारी को रोकने में सफल रही। मुख्यमंत्री बघेल तथ्यों से मुँह चुराकर कोरोना-संकट पर राजनीति करने से बाज नहीं आ रहे हैं। श्री उपासने ने कहा कि छत्तीसगढ़ में जितने मरीज ठीक होकर लौटे हैं, वे एम्स में भर्ती थे जहाँ उनका इलाज चला और मुख्यमंत्री-स्वास्थ्य मंत्री को अब तक एम्स में जाने की जरूरत तक महसूस नहीं हुई है। स्वास्थ्य मंत्री व मुख्यमंत्री की आपसी लड़ाई  कोरोना महामारी की इस संकट की घड़ी में जगजाहिर है जो प्रदेश हित में नहीं है। जमातियों के फैलाव को रोक पाने में विफल छत्तीसगढ़ सरकार बिलासपुर संभाग के कटघोरा में सात और कोरोना पॉजीटिव मरीजों के मिलने पर क्या कहना चाहती है? मुख्यमंत्री बघेल कोरोना संक्रमण को लेकर हर बार केन्द्र सरकार पर सारी जिम्मेदारी डालने का ही काम कर रहे हैं। खुद मुख्यमंत्री बघेल की सरकार ने इस महामारी को रोकने का कौन सा पुरुषार्थ किया है? सिवाय आँकड़ों का मायाजाल बुनकर झूठी वाहवाही लूटने के और कोई काम प्रदेश सरकार ने अबतक नहीं किया है।
भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्री उपासने ने कहा कि समूचा विश्व इस बात का साक्षी है कि कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत की केन्द्र सरकार ने जिस सूझबूझ, दूरदर्शिता और वैज्ञानिक दृष्टिकोण के साथ त्वरित पहल की, उससे विश्व के सभी देश प्रेरणा ले रहे हैं। कोरोना संक्रमण की खबरें प्रकाश में आते ही प्रधानमंत्री श्री मोदी ने जनवरी माह से ही इस महामारी को रोकने के प्रयास प्रारंभ कर दिये थे । इस तथ्य से मुँह चुराकर मुख्यमंत्री बघेल उन कांग्रेस नेता राहुल गांधी को इसकी रोकथाम का श्रेय देने की शर्मनाक कोशिश कर रहे हैं, जो कांग्रेस और राजनीति में अपना करियर तक तय नहीं कर पा रहें हैं। केन्द्र सरकार पर कोरोना संक्रमण पर लापरवाही बरतने का आरोप लगा कर मुख्यमंत्री बघेल आसमान पर थूकने का काम कर रहे हैं। श्री उपासने ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कोरोना के मरीज़ जिस एम्स में इलाज से ठीक हुए हैं वह एम्स छत्तीसगढ़ में केन्द्र की स्व. अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार की सौगात है। अब मुख्यमंत्री बघेल यदि इसमें भी झूठा श्रेय लेने पर आमादा है तो गुरुवार को कोरबा जिले के कटघोरा में मिले सात नए मरीज़ों का इलाज कांग्रेस के दफ़्तर में करा लें, उनकी सारी राजनीतिक हेकड़ी काफ़ूर हो जाएगी। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्री उपासने ने कहा कि कांग्रेस की बी टीम आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली में लाखों मजदूरों को सड़क पर उतारकर निजामुद्दीन के मरकज में तब्लीगी जमातियों के जमावड़े को शह देकर लॉकडाऊन को विफल करने का काम किया और कोरोना संक्रमण के खतरे को बढ़ाया। जिन राहुल गांधी की सलाह का दम्भ मुख्यमंत्री बघेल भर रहे हैं, क्या पंजाब और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्रियों को राहुल गांधी की सलाह पर भरोसा नहीं था, जो उन राज्यों में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ता नजर आ रहा है। कांग्रेस का पूरा नेतृत्व पहले तो मुँह छुपाए बैठा रहा और अब कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पीएम केयर्स के लिए संगृहीत राशि प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा करने और प्रेस को नियंत्रित करने का हास्यास्पद सुझाव देकर कांग्रेस की विचार शून्य संस्कृति का परिचय दे चुकी हैं। श्री उपासने ने कहा कि मुख्यमंत्री बघेल झूठी वाहवाही लूटने के शर्मनाक कृत्यों से बाज आएँ और भारत में कोरोना संक्रमण से मुक्त करने के लिए सियासी संक्रमण से ग्रस्त कांग्रेस नेताओं को ऐसी टिप्पणियों से बाज आना चाहिए।

 

error: Content is protected !!