मंत्री अमरजीत भगत की पहल पर झारखंड में फँसे सीतापुर के दो कर्मियों तक पहुँचाया गया भोजन

०० दो दिन से भूखे ही सो रहे थे सीतापुर के दो कर्मी

रायपुर| नोवल कोरोना वायरस कोविड 19 के सामुदायिक प्रसार को रोकने के लिये देशव्यापी लॉक-डाउन लागू किया गया है। अचानक लगाये गये लॉक-डाउन के चलते दैनिक वेतन भोगी व मज़दूर संकट में पड़ गये हैं। ज़रूरतमंद लोगों को त्वरित सहायता पहुँचाने के लिये छत्तीसगढ़ के कैबिनेट मंत्री सीतापुर विधायक अमरजीत भगत ने सीतापुर क्षेत्र व छत्तीसगढ़ प्रदेश के निवासियों के लिये टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर ‘18001233714’ शुरू किया है। इस नंबर पर फोन करके जानकारी दी गई कि सीतापुर क्षेत्र के दो कर्मि अनिमा किंडो पिता मुंशी किंडो और नीलमणि बाई पिता भूलेश्वर यादव झारखंड के राँची शहर में फँसे हुए हैं। वे वहां वोडाफोन के आफिस में कार्यरत थे, पूरे देश मे लॉकडाउन होने की वजह से उनका काम भी बंद हो गया व वे अपने घर भी वापस ना आ सके और दो दिन पहले उनके पास खाने की सामग्री खत्म हो जाने के कारण वे भूखे पेट ही जैसे तैसे दिन गुजार रहे थे।

उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से प्राप्त मंत्री श्री भगत के हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके उनसे मदद मांगी। जिस पर त्वरित कार्यवाही करते हुए मंत्री श्री भगत ने झारखंड के आपातकालीन नंबर 104 पर कॉल करके अनिमा किंडो और नीलमणि बाई की तकलीफ से अवगत कराया। जिसके आधार पर झारखंड के डायल 104 संचालकों ने शीघ्र ही उन दोनों श्रमिकों तक भोजन के पैकेट पहुँचाये। इस मामले में उनके निज सहायक सुरेश यादव छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से समन्वयक की भूमिका में रहे। मंत्री अमरजीत भगत ने झारखंड सरकार व डायल 104 के प्रशासकों के प्रति आभार व्यक्त किया है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि जो जहाँ है वहीं रहे, लॉक-डाउन का उद्देश्य कोरोना वायरस के सामुदायिक प्रसार को रोकना है। किसी को अगर समस्या है या मदद की ज़रूरत है तो मंत्री श्री भगत द्वारा जारी टोल-फ्री हेल्प लाइन नंबर पर संपर्क कर अपनी समस्या बताएं,  उन तक आवश्यक सहायता पहुँच जायेगी। ज्ञात हो कि दो दिन पहले ही खाद्य मंत्री अमरजीत भगत की तरफ से हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है। उल्लेखनीय है कि बिलासपुर में भी सीतापुर क्षेत्र के 17 ज़रूरतमंदों ने मंत्री अमरजीत भगत द्वारा जारी उपरोक्त हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके उनसे मदद की गुहार लगाई थी। ये दैनिक वेतनभोगी थे जिनकी आय लॉक-डाउन के बाद बंद हो गई थी। इनके पास न पैसे थे, न ही भोजन सामग्री, इनके कॉल पर तत्काल संवेदनशीलता दिखाते हुए मंत्री अमरजीत भगत ने मदद पहुँचाने की व्यवस्था की, जिससे उन्हें खाद्य सामग्री मिल सकी। मंत्री अमरजीत भगत द्वारा हेल्पलाइन नंबर ‘18001233714’ जारी करने से छत्तीसगढ़ के वंचित तबके को बहुत राहत मिली है, लोग इस नंबर कॉल करके मदद पा रहे हैं।

 

error: Content is protected !!