लॉकडाउन में छत्तीसगढ़ सरकार 1533 भिखारियों,  निराश्रित और जरूरतमंद व्यक्तियों तक पहुंचा रही निःशुल्क भोजन

रायपुर| राज्य शासन ने प्रदेश में लॉकडाउन के दौरान भिखारियों और निराश्रित व्यक्तियों को भोजन प्रदान करने का आदेश जारी किया है। आदेश के परिपालन में सभी जिलों में अब तक 1533 निराश्रित, भिक्षुक और जरूरतमंद व्यक्तियों का चिन्हान्कन किया गया है। समाज कल्याण विभाग द्वारा जिला प्रशासन, पुलिस साहित विभिन्न समाजसेवी संस्थाओं की  मदद से चिन्हान्कित व्यक्तियों तक निःशुल्क भोजन  पहुंचाया जा रहा है। निराश्रित, भिक्षुक और जरूरतमंद व्यक्तियों तक भोजन की उपलब्धता के लिए राज्य स्तर पर निरन्तर ऑनलाईन मॉनिटरिंग की जा रही है। राज्य शासन द्वारा यह  प्रयास किया जा रहा है कि कोई भी गरीब व्यक्ति भोजन से वंचित न रहे। भोजन वितरण का कार्य लॉकडाउन तक जारी  रहेगा ।


भोजन के सुरक्षित वितरण के लिए विस्तृत दिशा निर्देश जारी किये गये हैं ।संस्थाओं को जिला प्रशासन एवं विश्व स्वास्थ्य संगठन के द्वारा समय-समय पर जारी निर्देशों का पालन सुनिश्चित करने कहा गया है । इसमें विभिन्न जिलों के नगर निगम, नगर पंचायत सहित रेल्वे प्रशासन बिलासपुर, युवा समर्थन मंच बालोद, सिंधी पंचायत भाटापारा, होटल नागेश्वर कसडोल, जन समर्पण संस्था और साईं प्रथालय दुर्ग, महावीर मंच जांजगीर- चम्पा, शिवमंगल माहिला समिति कबीरधाम, कांकेर के समाज सेवी श्री हाजी हनीफ़ मेनन, श्री अजय पप्पू मोटवानी, रामकृष्ण मिशन नरायणपुर, जे.सी.आई.एवं अपना घर स्वेच्छिक संस्था रायगढ़ , सिक्ख फोरम रायपुर और राजनांदगांव में समाजसेवी श्री त्रिलोक बग्गा सहयोग कर रहे हैं ।

error: Content is protected !!