कोरोना वायरस : संकट की घड़ी में आगे बढ़े हाथ, ‘मुख्यमंत्री सहायता कोष” में जमा करा रहे राशि

०० नगरीय प्रशासन मंत्री शिव कुमार डहरिया ने एक महीने का वेतन मुख्यमंत्री सहायता कोष” में जमा करने का किया ऐलान

०० राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने अपना तीन माह का वेतन मुख्यमंत्री सहायता कोष” में किया जमा

रायपुर। कोरोनावायर के संकट को देखते हुए पूरे देश में लॉक डाउन किया गया है। इसके साथ ही बहुत से ऐसे लोग हैं जो इस महामारी की वजह से आर्थिक रूप से प्रभावित हो रहे हैं। संकट की इस घड़ी में ऐसे लोगों की सहायता के लिए हाथ भी आगे बढ़ रहे हैं। लोग स्वयं आगे बढ़कर मुख्यमंत्री राहत कोष में सहायता राशि जमा करा रहे हैं। इसकी पहल राज्य के मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों ने की है। नगरीय प्रशासन मंत्री डॉक्टर शिव कुमार डहरिया ने कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम सहायता के लिए अपने एक महीने का वेतन ‘मुख्यमंत्री सहायता कोष” में जमा करने का ऐलान किया है।

इसके साथ ही उन्होंने मंत्रिमंडल के अन्य सदस्यों, विधायकों, सांसदों, जनप्रतिनिधियों, समाज सेवी संस्थाआंे व समर्थ लोगों से सहायता करने की अपील की है। मंत्री डॉक्टर डहरिया ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा राज्य में बीमारी के नियंत्रण के लिए उठाए जा रहे कदम की सराहना की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बघेल के मार्गदर्शन में प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए बेहतर प्रयास किये जा रहे है। डॉ डहरिया ने कहा कि कोरोना संक्रमण को जड़ से खत्म करने के लिए सामुदायिक डिस्टेंस जरूरी है। अत: सावधानी बरतते हुए इस महामारी से बचा जा सकता है। उन्होंने इस आपात स्थिति में कोरोना पीड़ितों के साथ-साथ अन्य बीमारियों से पीड़ित लोगों की चिकित्सा सेवा में निरंतर कार्यरत स्वास्थ्य एवं चिकित्सा क्षेत्र से जुड़े हुए सभी स्टाफों, नागरीय निकाय के अमलो सहित निरंतर साफ-सफाई में लगे स्वच्छता कर्मचारियों, पुलिस विभाग के अधिकारियों- कर्मचारियो व अन्य आपातकालीन कर्मियों का उत्साहवर्धन करने, उनकी मदद करने और समर्थन देने आम नागरिकों से अपील की है।

महाधिवक्ता ने भी मुख्यमंत्री सहायता कोष में दान किया एक महीने वेतन :- कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण देश एवं प्रदेश में भारी संकट की स्थिति उत्पन्न् हो चुकी है। महाधिवक्ता सतीशचंद्र वर्मा ने मुख्यमंत्री के द्वारा किए जा रहे संक्रमण को रोकने के प्रयासों की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री सहायता कोष में अपने एक महीने के वेतन/मानदेय को देने का संकल्प लेते हुए मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है। उन्होंने भविष्य में भी उनके इस महामारी संक्रमण का मुकाबला करने के प्रयासों में हरसंभव सहभागी बनने का निश्चय दोहराया है।

राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने दान किया तीन माह का वेतन :- राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने अपना तीन माह का वेतन कोरोनावायरस की रोकथाम नियंत्रण और इससे प्रभावितों के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा करने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट टि्वटर पर अपने साथी मंत्री को इस पहल के लिए धन्यवाद दिया है।

मुख्यमंत्री राहत कोष में एक महीने का मानेदय जमा कराने चलेगा अभियान :- कोरोना वायरस से पीड़ितों की चिकित्सा व्यवस्था के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में राशि जमा कराने जिला कांग्रेस कमेटी ने अभियान चलाने का निर्णय लिया है। जिला कांग्रेस कमेटी ने जिले के नगरीय निकायों के पार्षदों, महापौर, अध्यक्षों व उपाध्यक्ष के अलावा जिला पंचायत के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष व सदस्यों समेत पंचायत प्रतिनिधियों को अपने एक महीने का मानदेय मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराने अभियान चलाने का निर्णय लिया है। जिला कांगे्रस कमेटी के इस अभियान को पीसीसी का समर्थन भी प्राप्त है।

 

error: Content is protected !!