शिक्षा एवं साहित्य में योगदान के लिए  डॉ श्रीमती मृणालिका ओझा को “महिला शिखर सम्मान”

रायपुर| वर्ल्ड ब्राह्मण फेडरेशन,  छत्तीसगढ़,  सर्व युवा ब्राह्मण परिषद एवं विप्र वार्ता पत्रिका परिवार के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित एक कार्यक्रम में डॉ श्रीमती मृणालिका ओझा सहित प्रदेश भर की विभिन्न क्षेत्रों में विशिष्ट उपलब्धि हासिल करने वाली 30 से ज्यादा महिलाओं को “महिला शिखर सम्मान” से सम्मानित किया गया।

उक्त कार्यक्रम  रायपुर स्थित वृन्दावन सभागार में दिनांक 15 मार्च 2020 को सम्पन्न हुआ जिसमें  फाग गीत तथा अन्य  सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये गये। इस गरिमामय कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के विभिन्न शहरों  रायपुर,  भाटापारा,  कसडोल,  भिलाई,  कोरबा,  जगदलपुर, बलौदाबाजार आदि शहरों की विभिन्न क्षेत्रों साहित्य,  शिक्षा,  चिकित्सा,  संस्कृति, समाज सेवा  आदि  में अग्रणी ऐसी 30 से ज्यादा महिलाओं को *महिला शिखर सम्मान* से सम्मानित किया गया। ज्ञातव्य है कि  डॉ श्रीमती मृणालिका ओझा ने चालिस से भी अधिक वर्षो तक शैक्षणिक क्षेत्र में सक्रिय रहते हुए अनेक नवाचारों का प्रयोग किया, आकाशवाणी एवं दूरदर्शन पर शैक्षणिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए साथ ही शासकीय लाइब्रेरी हेतु गठित पुस्तक चयन समिति की सदस्य की हैसियत से करीब 1700 पुस्तकों का चयन/समीक्षा भी की। छत्तीसगढ़ की लोककथाओं पर पी एच डी करते हुए आपने लोक साहित्य के क्षेत्र में भी विशिष्ट पहचान बनाई। आपकी अब तक 9 पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी है। इसके पूर्व गुजरात एवं छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रियों द्वारा गुजरात सरकार का “सर्टिफिकेट ओफ एक्सीलेंस”, अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता सेवा सम्मान आदि से भी सम्मानित किया गया है। उक्त कार्यक्रम की अध्यक्षता श्रीमती ज्योत्सना सिंह जी,  माननीय सांसद, कोरबा,   मुख्य अतिथि श्रीमती रश्मि सिंह ठाकुर  जी,  माननीय विधायक, तखतपुर,  विशेष अतिथि , श्रीमती अमिता  सिंह, माननीय विधायक, बैतुलपुर,  श्रीमती राजश्री मिश्रा जी,  पुलिस अधीक्षक,  माना, एवं श्रीमती जया सिंह जूदेव,  राष्ट्रीय अध्यक्ष,  नमो नारायणी महिला मोर्चा थे। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती नमिता  शर्मा एवं आभार वक्तव्य वर्ल्ड ब्राह्मण फेडरेशन के अध्यक्ष श्री अरविन्द ओझा जी द्वारा किया गया।

error: Content is protected !!