कानून का खिलवाड़ करने वालों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई हो : भाजपा

०० एमएलए के हाथ कानून, पत्नी को सजा देने का अधिकार कैसे?

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने जशपुर स्थित एक गांव में दुष्कर्म की कोशिश करने वाले युवक को दो थप्पड़ मारकर और पैर छूने पर माफ कर दिए जाने की खबर को शर्मनाक बताया है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में सिर्फ इसलिए महिला की अस्मिता से खिलवाड़ की कोशिश करने वाले के खिलाफ प्रदेश सरकार की महिला सुरक्षा से संबंधित तमाम कानूनी धाराओं को इसलिए निष्प्रभावी कर दिया गया क्योंकि आरोपी कांग्रेस के विधायक का रिश्तेदार है? उन्होंने प्रदेश की सरकार से स्पष्ट जवाब मांगा है कि क्यों लड़की पक्ष के लोगों की थाने में सुनवाई नही हुई जबकि कांग्रेस विधायक के रिश्तेदार द्वारा दुष्कर्म की कोशिश करने पर लड़की पक्ष के लोग थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाने गए थे।
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने सरकार से इस विषय को गंभीरता से लेने और कड़ी कंनूनी कार्रवाई करने को कहा है। उन्होंने कहा कि यह पूरे प्रदेश को शर्मसार करने वाला मामला है। इस प्रकार के मामले आने से प्रदेश की छवि धूमिल होती है। उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से पूछा कि क्या अपने एमएलए को कानून हाथ मे लेने और एमएलए की पत्नी को सजा देने का अधिकार दे दिया हैं? जशपुर के इस ताजा प्रकरण में कांग्रेस के विधायक के रिश्तेदार का नाम आना पुलिस द्वारा लड़की का न तो पक्ष सुनना और न ही एफआईआर दर्ज करना कहीं ना कहीं सत्ता पक्ष के विधायक के दबाव की ओर इशारा करता है। उसेंडी ने सरकार से इस गंभीर मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए विधायक के रिश्तेदार, विधायक विधायक की पत्नी के खिलाफ मामला दर्ज कर कड़ी कानूनी कार्रवाई करने एवं सभी को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की है। श्री उसेंडी ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से यह अपेक्षा की है कि इस प्रकार के गंभीर मामलों पर निष्पक्षतापूर्ण कठोर कार्रवाई हो और जनता में सुरक्षा का भाव जागृत हो इसलिए कठोरतम कदम उठाएंगें।

 

error: Content is protected !!