अभनपुर थाना पुलिस युवती कि आत्महत्या में बेकसूरों को फ़साने कर रहा प्रयास

०० युवती के आत्महत्या मामले में है कई पेंच, पुलिस जांच में कई पहलु है संदिग्ध

०० आत्महत्या मामले को हत्या का रूप देकर बेकसूरों को फ़साने कर रही है पुलिस साजिश

रायपुर| न्याय दिलाने वाली पुलिस अगर स्वयं ही अन्याय पर आमदा हो जाए तो आखिर पीडत किससे न्याय कि गुहार लगाए, इस मुहावरे को चरित्रार्थ कर रहा है राजधानी के अभनपुर पुलिस थाना के अधिकारी व कर्मचारी| अभनपुर थाना क्षेत्र के ग्राम खोला में बीते 18 दिसम्बर को एक युवती ने अपने शरीर पर मिट्टीतेल डालकर आत्महत्या कर लिया इस मामले में ग्राम के ही कुर्रे परिवार कि दो महिलाओ को आरोपी बनाकर पुलिस ने जेल भेज दिया वही एक आरोपी को फरार घोषित कर दिया , युवती के आत्महत्या को हत्या का रूप देकर अभनपुर पुलिस द्वारा कुर्रे परिवार को घटना के बाद से लगातार प्रताड़ित करते हुए जबरन हत्या के मामले में फ़साने का प्रयास कर रही है वही कुर्रे परिवार ने इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री, गृहमंत्री, डीजीपी, आईजी सहित एसपी से भी शिकायत कर मामले कि निष्पक्ष जांच किये जाने कि भी मांग कर चुकी है लेकिन कुर्रे परिवार को न्याय नहीं मिल रहा है|

ग्राम खोला निवासी हसन कुर्रे ने बताया कि विगत 18 दिसम्बर 2019 को ग्राम खोला कि निवासी कु. सरस्वती द्वारा मेरे छोटे भाई के ऊपर आरोप लगाकर घर में जबरन घुसने का प्रयास कर रही थी जिसे हमारे गाव के सतनामी समाज के अध्यक्ष चैतराम धृतलहरे एवं ग्राम कोटवार सहित कु. सरस्वती के जीजा व गाव के अन्य लोगो ने देखा है कि शाम 6 :30 बजे सरस्वती को जलाल सतनामी के घर से उसके परिवार वाले अपने घर ले गए तथा वह उसने रात्रि में अपने ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आत्महत्या करने कि कोशिश कि जिसे बचाने स्वयं उनका जीजा आशकुमार एवं बलजीत सोनवानी के द्वारा बचाया गया एवं सरसवती के परिवार वालो द्वारा पुलिस सहायता 112 के द्वारा रात्रि 9.30–10:00 बजे बलजीत सोनवानी के मोबाइल नम्बर सेरात्रि 11.25 को उसे रायपुर रिफेर कर दिया गया जहा दिनाक 23 नवम्बर 2019 को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी| हसन कुर्रे ने बताया कि पुलिस द्वारा इस आत्महत्या के मामले को लेकर बिना मौके पर जांच किये सिर्फ युवती सरस्वती के मरणासन्न बयान के आधार पर पुलिस द्वारा अपराध अंतर्गत धारा 307/34 एवं 302 के तहत कार्यवाही किया जा रहा है जबकि लड़की के पहले ही आदतन ख़राब किस्म कि लड़की थी एवं रोजाना शराब का सेवन भी करती थी| हसन कुर्रे ने इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री, गृहमंत्री, डीजीपी, आईजी सहित एसपी से भी शिकायत कर मामले कि निष्पक्ष जांच किये जाने कि भी मांग करते हुए न्याय दिलाने कि विनम शिकायत कर चुके है लेकिन कुर्रे परिवार को अभी तक न्याय नहीं मिल पाया है|

 

 

error: Content is protected !!