छत्तीसगढ़ बजट: आईटी व एम्स में चयनित होने वाले छात्रों की  फीस भरेगी सरकार

०० खेल और खिलाडिय़ों के लिए 10 करोड़ का प्रावधान

रायपुर| छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2020-21 का वार्षिक बजट पेश किया। बजट में इस बार शिक्षाकर्मियों को बड़ी राहत दी गई है। 16 हजार शिक्षाकर्मियों का संविलियन होगा। दो वर्ष की सेवा पूरी करने वाले शिक्षाकर्मियों का 1 जुलाई 2020 से संविलियन प्रारंभ होगा। उच्च शिक्षा के क्षेत्र में बड़ी पहल करते हुए आईआईटी और एम्स में चयनित मेधावी छात्रों का फीस राज्य सरकार भरेगी। राज्य के संस्थानों में भी उन्हें प्राथमिकता दी जाएगी । इस बड़ी घोषणा के बाद उच्च शिक्षा की दिशा में प्रयासरत छात्रों का काफी मनोबल बढ़ा है। वहीं पहली बार खेल और खिलाडिय़ों के लिए 10 करोड़ का प्रावधान किया गया है।

के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के वित्तीय वर्ष 2020-21 का वार्षिक बजट में एनीकट, स्टॉप डैम निर्माण के लिए 173 करोड़ का प्रावधान, लघु सिंचाई परियोजनाओं के लिए 610 करोड़, महानदी परियोजना के लिए 237 करोड़, नाबार्ड समेत सिंचाई परियोजनाओं के लिए 697 करोड़, सरगुजा की शेखरपुर वृहद जलाशय परियोजना के लिए 20 करोड़, कुनकुरी जलाशय परियोजना के लिए 20 करोड़, पैरी बांध महानदी इंटर लिंकिंग परियोजना के लिए 20 करोड़, बोधघाट परियोजना से 2 लाख 66 हजार हेक्टेयर सिंचित करने का लक्ष्य , 13 लाख हेक्टेयर है सिंचाई क्षेत्र, 2028 तक 32 लाख हेक्टेयर में सिंचाई का लक्ष्य पशु औषधालयों का पशु चिकित्सालयों में उन्नयन होगा, 12 नए पशु औषधालय खुलेंगे, 5 विकासखंडो में मोबाइल पशु चिकित्सा इकाई स्थापित होगी, धमधा में फिशरीज पॉलिटेक्निक खुलेगा, रायपुर कृषि विवि में खाद्य प्रौद्योगिकी संस्थान की स्थापना होगी, बेमेतरा और तखतपुर में डेयरी डिप्लोमा कॉलेज खुलेगा, बेमेतरा, जशपुर, धमतरी, अर्जुंदा-बालोद में उद्यानिकी कॉलेज, लोरमी में कृषि कॉलेज खुलेगा, उद्यानिकी कॉलेज, कृषि कॉलेज के लिए 5 करोड़, गौठान समितियों को प्रति माह 10 हजार का अनुदान, पैरा के लिए मशीन लेने के लिए 6 करोड़, 5 एचपी कृषि पंपों के लिए मुफ्त बिजली, 5 लाख 36 हजार 2164 करोड़ की छूट, योजना के लिए 2300 करोड़ का प्रावधान, पीएम कृषि सिंचाई योजना में 110 करोड़, जल प्रबंधन कार्यक्रम में 200 करोड़, जैविक खेती मिशन के लिए 20 करोड़, एकीकृत बागवानी मिशन के लिए 205 करोड़, राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के लिए 370 करोड़, प्रधानमंत्री फसल बीमा के लिए 366 करोड़, खेल और खिलाडिय़ों के बढ़ावे लिए 10 करोड़, आईआईटी और एम्स के लिए प्रदेश के छात्रों का फीस शासन वहन करेगी, ऐसे छात्रों के राज्य संस्थानों में चयन में प्राथमिकता, हर साल युवा महोत्सव के लिए 5 करोड़, राजीव मितान योजना के लिए 75 हजार युवा मितान जोड़ेंगे, राजीव मितान योजना के लिए 50 करोड़ का प्रावधान, स्वामी विवेकानंद के रायपुर निवास को स्मृति संस्थान बनाएंगे, चिकित्सा उपकरणों, स्किल लैब के लिए 75 करोड़ का प्रावधान, राज्य सिकलसेल संस्थान में उच्च स्तरीय लैब बनाएंगे, सभी जिला अस्पतालों में सिकल सेल यूनिट स्थापित होगी, मलेरिया मुक्त बस्तर के लिए 13 लाख से ज्यादा लोगों की सैंपल जांच, मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना से 17 लाख लोगों का इलाज किया, हाट बाजार क्लीनिक योजना के लिए 13 करोड़ का प्रावधान, हाट बाजार क्लीनिक से 11 लाख लोग लाभान्वित, गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए 20 लाख तक दे रहे, गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए 50 करोड़ का प्रावधान, खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना के लिए 65 लाख परिवार पात्र, खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना के लिए 550 करोड़ का प्रावधान, 2 अक्टूबर 2019 को 5 स्वास्थ्य योजनाएं शुरू कीं, महतारी जतन योजना के लिए 31 करोड़, विशेष पोषण आहार योजना के लिए 766 करोड़ का प्रावधान रखा है|

error: Content is protected !!