बेरोजगारों को धोखा देने वाले नौटंकी न करें : भाजयुमो

रायपुर। भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष विजय शर्मा ने प्रदेश युवा कांग्रेस के ‘राष्ट्रीय बेरोजगार रजिस्टर’ (एनआरयू) की मांग को लेकर राष्ट्रव्यापी अभियान की शुरुआत को कांग्रेस और प्रदेश सरकार की एक और हास्यास्पद नौटंकी करार दिया है। श्री शर्मा ने कहा कि देश में सर्वाधिक अवधि तक शासन करने के बाद भी जिस कांग्रेस ने बेरोजगारी बढ़ाने का काम किया आज उसी पर सलाहचंद बन रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने अपने विधानसभा घोषणा पत्र में  प्रदेश के 10 लाख बेरोजगार युवाओं को प्रतिमाह 2500 प्रोत्साहन राशि देने का वादा किया था कांग्रेस सरकार को चाहिए कि सबसे पहले युवाओं से किए अपने उस वादे को पूरा करें। अगर उसने पिछले 1 वर्ष में  बेरोजगारी रजिस्टर नही बना पाई है तो यह कांग्रेस की ही विफलता का जीता जागता नमूना है।
भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष श्री शर्मा ने कहा कि प्रदेश युवा कांग्रेस भारत की छोड़, पहले छत्तीसगढ़ की फिक्र करे जहां उसकी प्रदेश सरकार ने बेरोजगारों से सिवाय ठगी करने के और कोई काम नहीं किया। बेरोजगारी भत्ता देने के वादे पर अब तक अमल शुरू नहीं करने वाली प्रदेश सरकार ने समूची भर्ती प्रक्रिया और प्रतियोगी परीक्षाओं में अड़ंगा डाल रखा है। युवा बेरोजगारों के सपनों को पंख लगाने के बजाय उन्हें मायूसी व निराशा के गर्त में धकेल रही है। प्रदेश युवा कांग्रेस सियासी नौटंकियों की भागीदार बनने के बजाय प्रदेश सरकार को पहले इस बात के लिए बाध्य करे कि प्रदेश के बेराजगारों को रोजगार मुहैया कराए और उनसे 2500 रुपये प्रोत्साहन राशि के किए वादों पर अमल करे। युवा कांग्रेस भी युवकों से छलावे में भागीदार बन रही है। उन्होंने कहा कि दैनिक वेतनभोगी कर्मियों को नियमित करने का वादा किया। शिक्षाकर्मी की नई भर्ती और नियमितीकरण का वादा किया था। वादाखिलाफी की हद तो तब हो गई जब नियमितीकरण नहीं करके उल्टे उन्हें दैनिक वेतनभोगी कर्मी से भी बेदखल कर दिया गया। ऐसे लोग बेरोजगारों के हितैषी बनने की कोशिश कर रहे है। चुल्लु भर पानी में डूब जाना चाहिए ऐसे लोगों को। सारे नियुक्तियों को ठंडे बस्ते में डालने का काम भूपेश सरकार कर रही है इन्हें पहले अपने गिरेबां में झांकना चाहिए।

error: Content is protected !!