धान खरीदी को लेकर भाजपा ने किया हल्ला बोल धरना प्रदर्शन

मुंगेली| भारतीय जनता पार्टी धान खरीदी को लेकर हल्ला बोल धरना प्रदर्शन किया। पूर्व खाद्यमंत्री एवं विधायक पुन्नूलाल मोहले ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार लगातार किसान विरोधी नीति अपनाकर धान नहीं खरीद रही है। जिसका हम धरना प्रदर्शन कर पुरजोर विरोध करते हैं। प्रदेश में जब हमारी सरकार थी तो हर साल 15 नवम्बर से ही धान खरीदी की जाती रही है। लेकिन जब से झूठे वादों के सहारे प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आई है अपने वादों  के मुताबिक किसानों की मांगों को पूरा नहीं कर रही है। महामहिम राज्यपाल के नाम ज्ञापन तहसीलदार के माध्यम से सौंपा गया।

स्थानीय महाराणा प्रताप चौक पड़ाव में आयोजित धरना प्रदर्शन में विधायक पुन्नूलाल मोहले ने आगे कहा कि अभी धान कटाई चल रही है और किसानों का धान बिचैलियों औने-पौने दाम पर खरीद रहे हैं 1000 से 1200 रुपए में किसानों को धान बेचना पड़ रहा है जिससे किसानों को 12 से 15 सौ रुपए का नुकसान हो रहा है। पूर्व में भाजपा सरकार जिस प्रकार से धान खरीदी करती थी उसी  तरह कांग्रेस सरकार को 15 नवम्बर से धान खरीदी करना चाहिए था। अब वक्त आ गया है कि अपने वादे के मुताबिक कांग्रेस की सरकार को किसानों के धान खरीदी के मुद्दे पर ठोस कदम उठाना चाहिए। प्रदेश की वर्तमान कांग्रेस सरकार के खिलाफ एक दिवसीय धरना दिया यह किसानों के हक की लड़ाई के लिए किया गया क्योंकि वर्तमान में प्रदेश की कांग्रेस सरकार के द्वारा किसानों का धान खरीदी प्रारंभ होने की तिथि एक माह बढ़ा दी गई है । किसानों को धान का 2500 रुपए मूल्य दिलाने व कर्जा माफ कराने के लिए धरना प्रदर्शन करना पड़ रहा है। धरना को संबोधित करते हुए प्रदेश भाजपा कार्यसमिति सदस्य गिरीश शुक्ला ने कांग्रेस सरकार एवं  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर हमला बोलते हुए कहा की वह शपथ कहां गई जो उन्होंने व उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने आम जनता के समक्ष ली थी कि वह किसानों का धान 2500 में खरीदेंगे । कांग्रेस की सरकार बनने के बाद 10 दिन के अंदर किसानों का पूरा कर्जा माफ कर दिया जाएगा लेकिन अभी तक किसानों का पूरा कर्जा माफ नहीं हुआ है उन्होंने बताया कि जिस तरह से यह प्रदेश की सरकार केवल और केवल जनता को गुमराह कर रही है एवं लूट रही है वर्तमान में स्कूलों में बच्चों को जो अंडा दिया जा रहा है उसका पैसा भी गुरुजी स्वयं दे रहे हैं उसका भी पैसा सरकार नहीं दे पा रही है इस सरकार के मुखिया भूपेश बघेल जी लगातार कर्जा लेते जा रहे हैं और विकास के नाम पर छत्तीसगढ़  में कुछ नही हो रहा है यह कितना कर्जा लेंगे इस कर्जे का भार आम जनता पर पड़ेगा। पूर्व विधायक चोवादास खांडेकर ने कहा कि कांग्रेस की सरकार छत्तीसगढ़ को देश के पिछड़े हुए राज्यों की ओर अग्रसर कर रही है जिस तरह अविभाजित मध्यप्रदेश के समय छत्तीसगढ़ पिछड़ा हुआ था उसी तरफ यह सरकार आगे कदम बढ़ा रही है । जिस प्रदेश को भारत के पूर्व प्रधानमंत्री श्रद्धेय  अटल बिहारी वाजपेई जी ने बनाया था एवं जिस प्रदेश को पिछले 15 सालों में प्रदेश के पूर्व मुखिया डॉ रमन सिंह ने संभाला था , प्रदेश के चारों तरफ चाहुमुखी विकास कराया था अब प्रदेश में विकास रुक गया है। जिला भाजपा महामंत्री मोहन भोजवानी ने कहा कि अगर किसानों का कर्जा माफ नही हुआ, धान को 2500 रुपए में नही खरीदा गया एवं जनता को गुमराह किया गया तो भारतीय जनता पार्टी चुप नहीं बैठेगी और वह भी लगातार आपको सचेत करती रहेगी एवं धरना प्रदर्शन करती रहेगी । पूर्व विधायक  विक्रम मोहले ने संबोधित करते हुए कहा कि इस सरकार को धान की खरीदी आज से ही प्रारंभ करनी चाहिए क्योंकि हमारी सरकार में धान खरीदी 1 नवंबर से की जाती थी लेकिन इस सरकार ने 1 नवंबर से नही खरीदी और खरीद तिथि को बढ़ा कर  1 दिसंबर कर दी गई। यह सरकार प्रदेश के किसानों को गुमराह कर रहे हैं । नगर पालिका अध्यक्ष शैलेश पाठक ने कहा कि आज प्रदेश की जनता कांग्रेस की सरकार से हताश है उनका हक यह सरकार छीन रही है। नगर पालिका क्षेत्र विकास के लिए पूर्व मंत्री पुन्नूलाल मोहले द्वारा स्वीकृत कराई  गई राशि तक वापस मंगा लिया जाता है। जनपद उपाध्यक्ष शिवप्रताप सिंह ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से कहा कि आपने जो वादा किया था उसे पूरा करें और किसानों का कर्जा जल्द से जल्द माफ कराएं।  धरना प्रदर्शन को द्वारिका जायसवाल,नगर पालिका उपाध्यक्ष प्रकाश जैन,तरुण खांडेकर,विनय पाण्डेय,जयप्रकाश मिश्रा, जीवन पटेल, आदि कार्यकर्ताओ ने संबोधित किया । संचालन नगर भाजपा अध्यक्ष राणाप्रताप सिंह ने व आभार मुंगेली ग्रामीण मण्डल अध्यक्ष शंकर सिंह ठाकुर ने किया। अंत मे महामहिम राज्यपाल के नाम तहसीलदार के माध्यम से ज्ञापन सौंपा गया। इस धरना में सुनील पाठक,श्रीकांत पाण्डेय, मिट्ठूलाल यादव,मनोहर मोहले,सोम वैष्णव,संजय वर्मा,अशोक सिंह ठाकुर, मुंगेली नगर मण्डल,मुंगेली ग्रामीण मण्डल,सेतगंगा मण्डल व जरहागांव मण्डल के कार्यकर्ता व किसान बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।

error: Content is protected !!