अंतागढ़ टेप कांड के मुख्य गवाह फिरोज सिद्दीकी के खिलाफ 1 करोड़ की ब्लैकमेलिंग का मामला दर्ज

०० फिरोज सिद्दीकी के खिलाफ ब्लैकमेलिंग व वसूली का मामला दर्ज, सुबह गिरफ्तारी के बाद पड़े छापे

रायपुर| हाईप्रोफाइल अंतागढ़ टेप कांड के मुख्य गवाह फिरोज सिद्दीकी के खिलाफ अब एक करोड़ की ब्लैकमेलिंग और वसूली का मामला दर्ज हुआ है। फिरोज सिद्दीकी को आज सुबह गिरफ्तार करने के बाद एसएसपी आरिफ शेख ने बताया कि पप्पू फरिश्ता ने सिद्दिकी पर ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया है, साथ ही करीब एक करोड़ रुपए की ब्लैकमेलिंग कर वसूली कर चुका है। शिकायत के बाद पुलिस फिरोज को पकडऩे आधी रात उसके मकान में दबिश दी, ये मामला वर्ष 2018 का है जिसकी शिकायत पप्पू फरिश्ता ने कल कराया।

एसएसपी शेख आरिफ हुसैन ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि फिरोज सिद्दीकी ने स्टिंग ऑपरेशन कर पप्पू फरिश्ता का आपत्तिजनक वीडियो बनाने की जानकारी मिली है। पप्पू फरिश्ता द्वारा शिकायती पत्र में इसका उल्लेख किया गया है साथ ही उसने बताया कि उसके कुछ वीडियो-ऑडियो फिरोज सिद्दीकी के पास है जिसकी अभी जांच चल रही है। पुलिसकर्मी सोमवार-मंगलवार की दरम्यानी रात ही उसे लेने कटोरा तालाब स्थित घर पर पहुंच गए थे। सिविल लाइन निरीक्षक मोहसीन खान खुद 10 पुलिसकर्मियों के साथ रात करीब 1 बजे फिरोज सिद्दीकी के घर पहुंचे थे। घरवालों के मुताबिक उन्होंने अंतागढ़ टेपकांड के संबंध में पूछताछ करने के लिए पुलिस अधीक्षक शेख आरिफ हुसैन द्वारा बुलवाए जाने की जानकारी दी लेकिन, किसी भी तरह की नोटिस और वारंट नहीं दिखाया गया तुरंत साथ चलने का दबाव डाला गया। फिरोज ने दरवाजा नहीं खोला तो पुलिस पूरी रात घर के बाहर खड़ी रही। आरोप है कि इस दौरान बलपूर्वक दरवाजा खुलवाने की कोशिश हुई। घटना की जानकारी मिलने के बाद फिरोज सिद्दीकी से मुलाकात करने बड़ी संख्या में उनके करीबी लोग और अधिवक्ता पहुंचे थे लेकिन, किसी से उन्हें मुलाकात नहीं करने दिया गया। इस मामले में पुलिस ने किसी भी तरह का जानकारी से मना कर दिया। आरोप है कि सीसीटीवी को बंद करने के लिए बिजली के मीटर का स्विच भी गिरा दिया गया था। वहीं इस पूरे मामले में पुलिस के किसी भी अधिकारी ने टिप्पणी करने से इंकार कर दिया। हालांकि बताया जा रहा है कि सिद्दीकी के खिलाफ ब्लैकमेलिंग की धाराओं में अपराध दर्ज हुआ है। फिरोज सिद्दीकी के खिलाफ ब्लैकमेलिंग और वसूली का मामला दर्ज किया गया है। मंगलवार सुबह गिरफ्तारी के बाद फिरोज के तीन ठिकानों पर पुलिस ने तलाशी ली। एसएसपी ने बताया कि शिकायत के आधार पर फिरोज सिद्दीकी के माना तेलीबांधा थाना और उसके कटोरा तालाब स्थित तीन ठिकानों पर सामान जप्त किया गया है जिसे जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजा जाएगा। बताया जा रहा है कि फिरोज सिद्दीकी दो दिन पहले ही एसआईटी की भूमिका को खानापूर्ति बताते हुए सर्वोच्च न्यायालय जाने की बात कह रहा था। उसका कहना था, वह मंगलवार को याचिका लगाने वाला था। इस बीच आधी रात अचानक पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

error: Content is protected !!