जैव विविधता के अध्यक्ष बने यवत सिंह

धीरज शिवहरे

कोरिया। कलेक्टर डोमन सिंह की अध्यक्षता में जिला कलेक्ट्रोरेट के सभाकक्ष में जिला स्तरीय जैव विविधता प्रबंधन समिति गठित करने के संबंध में बैठक संपन्न हुई बैठक में कलेक्टर ने सभी सदस्यों की सहमति से जैव विविधता अधिनियम 2002 की धारा 41 (1), जैव विविधता नियम 2004 के नियम 22 व छत्तीसगढ़ जैव विविधता नियम 2015 के नियम 23 अंतर्गत जैव विविधता समिति का गठन किया जैव विविधता समिति का गठन तीन अथवा पांच वर्षों के लिए किया गया है यवत कुमार सिंह की अध्यक्षता मे गठित जैव विविधता समिति मे कलावती मरकाम, सरोजनी सिंह कमरो, अरूण शुक्ला, गीता प्रसाद नेमा, रविशंकर सदस्य एवं तुलिका प्रजापति सदस्य सचिव होंगी बैठक में कलेक्टर ने कहा कि यह समिति अपने क्षेत्राधिकार में जैविक संसाधनों का संरक्षण व दीर्घकालिक उपयोग करेगी तथा जैव संसाधनों तक गैर-कानूनी पहुंच पर रोक लगायेगी इसके अतिरिक्त समिति आवश्यकतानुसार राष्ट्रीय जैव विविधता प्राधिकरण, चेन्नई व छत्तीसगढ राज्य विविधता बोर्ड, रायपुर को राय देने, अधिनियम के प्रावधानों के अनुरूप अपने क्षेत्राधिकार में जैव संसाधनों तक पहुंच व उनके संग्रहण पर संग्रहण शुल्क आरोपित करने स्थानीय वैद्यों व जैव संसाधनों का इस्तेमाल करने वाले चिकित्सकों के संबंध में जानकारियों का संधारण जैविक संसाधनों तक पहुंच एवं उपलब्ध करवाये गये पारंपरिक ज्ञान के विवरण सहित आरोपित शुुल्क को उनसे प्राप्त राशि व लाभ के बंटवारे से संबंधित सूचनाओं की पंजी का संधारण जैव विविधता व उससे जुड़े पारंपरिक ज्ञान का दस्तावेजीकरण तथा राष्ट्रीय जैवविविधता प्राधिकरण व छत्तीसगढ़ राज्य जैवविविधता बोर्ड के दिशा-निर्देशों के अनुसार जैवविविधता कोष के प्रबंधन व उपयोग जैसे कार्यों का निर्वहन करेगी।

विकास समन्वयक एवं निगरानी समिति के सदस्य हैं सिंह

इससे पहले यवत कुमार सिंह को कुछ दिन पूर्व ही कोरिया विकास समन्वयक एवं निगरानी समिति से कोरबा सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत ने सदस्य नियुक्त किया है।

आइये जानते हैं इनका राजनीति सफर व योग्यताएं

कोरिया-कोरिया कांग्रेस के वरिष्ठ आदिवासी नेता व पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष यवत सिंह को कुछ हफ्ते पूर्व ही कोरिया जिला का विकास समन्वयक एवं निगरानी समिति का सदस्य नियुक्त किया गया है उनकी नियुक्ति कोरबा लोकसभा सांसद श्रीमती ज्योत्सना चरणदास महंत कीअनुशंसा पर की गई थी।

कब कब कहाँ नियुक्त हुए

1- साल 1983 में ग्राम पटना जिला (सरगुजा) कोरिया में सरपंच नियुक्त हुए।

2- साल 1984 में अध्यक्ष जनपद पंचायत बैकुंठपुर
(सरगुजा) कोरिया

3- साल 1984 ब्लाक उपाध्यक्ष कांग्रेस बैकुंठपुर(सरगुजा) कोरिया

4- साल 1984 में संयोजक आदिवासी विकास परिषद पश्चिम सरगुजा

5-साल 1996 में अध्यक्ष आदिम जाति सेवा सहकारी समिति मर्यादित- पटना(सरगुजा)कोरिया

6-साल 2000 में अध्यक्ष जिला पंचायत कोरिया

7-साल 2001-2 में अध्यक्ष जनभागीदारी समिति महाविद्यालय चिरमिरी

8- सदस्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी छ.ग./म.प्र. चार बार

9-सदस्य जिला पंचायत कोरिया साल 2010

10- बी. एस. एन. एल सलाहकार बिलासपुर मंडल

11- अशासकीय सदस्य मैंनेजमेंट कमेटी वीड साइंस सेंटर जबलपुर

12- साल 2000 में सदस्य आर.के.के.एम. एस ई सी एल बैकुंठपुर,कोरिया

कांग्रेस पार्टी के जिलाध्यक्ष के तौर पर इन्होंने पार्टी के दायित्व को सम्हाला साथ ही जनपद अध्यक्ष व कोरिया जिला बनने के साथ ही ये प्रथम कोरिया जिला पंचायत अध्यक्ष नियुक्त हुए यवत सिंह की नियुक्ति से जहां उनका कद बढ़ा है वहीं कार्यकर्ताओं में भी खुशी की लहर दौड़ उठी ज्ञात हो कि मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद निगम मंडल व आयोग के अध्यक्ष की नियुक्ति में जहां कोरिया जिले से कई बड़े नाम सुमार हैं उनमें से एक नाम यवत कुमार सिंह का भी है पूर्व में भी इनके कार्यकर्ताओं ने निगम मंडल व आयोग में एक आदिवासी नेता के तौर पर इनके नाम को लेकर काफी माहौल बनाया था हालाकि अभी तक इस पद पर कोई भी नियुक्ति नही हुई है पर जल्द ही राज्य सरकार द्वारा नाम स्पष्ठ होने की अटकलें साफ हो सकती हैं।

error: Content is protected !!