नकली नोट बनाने और खपाने वाला गिरोह का खुलासा गिरोह के मास्टर माइंड सहित 6 गिरफ्तार

कुनाल साहू

जांजगीर- चांपा/ जांजगीर पुलिस ने नकली नोट छापकर उसे बाजार में खपाने वाले एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया है, पुलिस ने गिरोह के सरगना समेत 6 आरोपियों को 7 लाख 27 हजार 800 रूपए के नकली नोट और नकली स्टाम्प के साथ गिरफ्तार किया है, गिरोह का सरगना ज्ञान दास कुर्रे बलौदाबाजार जिले का रहने वाला है, और नकली नोट के मामले में पूर्व में भी तीन बार जेल जा चुका है, और अभी 25 अप्रैल को जमानत पर रिहा हुआ है, इस मामले में सबसे दिलचस्प बात यह है की, ज्ञान दास ने जेल के अन्दर रहकर ही, नकली नोट के कारोबार चलाने का सारा प्लान बना लिया था, और जेल से रिहा होते ही,वह अपने प्लान को पूरा करने में लगा हुआ था, और अब तक उसने,जांजगीर और बलौदाबाजार दोनों जिले मे 10 से 15 लाख रुपए के नकली नोट खपा लिया है, ज्ञान दास नकली नोट के साथ साथ नकली स्टाम्प भी बनाने का कारोबार करता था पुलिस ने ज्ञान दास के बैग से 50 रूपए के एक ही सीरीज के 5 नकली स्टाम्प पेपर भी बरामद किया है ज्ञान दास के गिरोह के दो सदस्य मनोज साहू और देवन्द्र नकली नोटों को जांजगीर और बलौदाबाजार जिले मे घूम घूम के खपाते थे जांजगीर जिले के हसौद थाना क्षेत्र में नकली नोटों को खपाने के दौरान दोनों आरोपी हसौद पुलिस के हथ्थे चढ़े और इस पुरे गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है पूछताछ में दोनों आरोपी मनोज और देवन्द्र के निशानदेही पर पुलिस ने गिरोह के सरगना ज्ञान दास और गिरोह के तीन सदस्य रोहित भारद्वाज, दिलीप महिलांगे, डोमन गिरी को गिरफ्तार कर लिया है और इनके कब्जे से दो हजार,पांच सौ, दो सौ और सौ रूपए के कुल 7 लाख 27 हजार 800 रूपए के नकली नोट, नकली नोट छापने के कम्प्यूटर सेट, कलर पिंटर पेपर एवं एक ही सीरीज के 5 नकली स्टाम्प बरामद किया है पकडे गए सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा जा रहा है।

error: Content is protected !!