समाज की प्रगति के लिए एकता, संगठन और चरित्र जरूरी : भूपेश बघेल

०० मुख्यमंत्री शामिल हुए हरदिहा साहू समाज की बैठक में

रायपुर| मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि किसी भी समाज की प्रगति के लिए समाज में एकता, संगठन और चरित्र जरूरी है। श्री बघेल आज यहां महादेव घाट में आयोजित हरदिया साहू समाज के वार्षिक अधिवेशन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने समाज के लोगों की मांग पर सामाजिक भवन के लिए जगह चिन्हांकित होने पर भूमि आवंटित कराने के लिए आश्वस्त भी किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज में बच्चों की शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार पर भी जोर देना चाहिए। श्री बघेल ने कहा कि खर्चीली शादी जैसी समी सामाजिक बुराई से निजात पाने के लिए हरदिया साहू समाज में सबसे पहले सामूहिक विवाह  का फैसला किया है, इसकी जितनी तारीफ की जाए वह कम है। समाज में सबकी सहमति और सबकी भागीदारी से सामूहिक विवाह का अभूतपूर्व फैसला लिया और छत्तीसगढ़ सहित देश को अच्छा रास्ता दिखाया। मुख्यमंत्री ने किसानों की ऋण माफी, 25 सौ रूपए प्रति किं्वटल के मूल्य पर धान खरीदी की व्यवस्था जैसे निर्णयों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जब हमारे किसान मजबूत होंगे, छत्तीसगढ़ भी मजबूत होगा। श्री बघेल ने कहा कि हर परिवार को 35 किलो चावल देने का फैसला लिया गया है। इसी प्रकार अब शिक्षा को शिक्षा के अधिकार के दायरे में कक्षा 9 वीं से 12वीं तक विद्यार्थियों को भी लाभान्वित किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने चिटफंड कम्पनियों के संबंध में कहा कि गरीब व्यक्ति की राशि नहीं डूबे इसके लिए पूरी ताकत से कार्रवाई करेंगे। कार्यक्रम हरदिहा साहू समाज के प्रदेश अध्यक्ष श्री सोमनाथ साहू, रायपुर परिक्षेत्र के अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक श्री नंदकुमार साहू सहित अनेक पदाधिकारी उपस्थित थे।

 

error: Content is protected !!