हेल्प-सेंटर-आकाश-वेलफेयर सोसायटी एवं छत्तीसगढ़ जनहित-कल्याण-समिति के सानिध्य में एक दिवसीय जागरूकता-कार्यक्रम आयोजित

०० ग्रामीण-क्षेत्र के मरीजो सहित सहरी-क्षेत्रों के मरीजो के लिए संजीवनी बना हेल्प-सेंटर 

०० सोशल-मीडिया में ज्यादा से ज्यादा लोगों में अभियान से जुड़नेव जागरूकता की आवश्यकता मीडिया का किया धन्यवाद

करगीरोड-कोटा| रविवार को सामुदायिक-स्वास्थ्य-केंद्र कोटा में नि:शुल्क-हेल्प-सेंटर आकाश वेलफेयर सोसायटी एवं छत्तीसगढ़ जनहित कल्याण समिति के सानिध्य में एक संगोष्ठी एवं जागरूकता-कार्यक्रम का आयोजन किया गया, नगर के गणमान्य नागरिक के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिक भी सम्मिलित हुए, आज की तारीख में स्वास्थ्य सेवाओ को लेकर सरकार भले ही लाख दावे करती हो,योजना बनाती हो पर उसका क्रियान्वयन जमीन पर नही दिखता आपातकाल-स्थिति में ग्रामीण हो या फिर सहरी मरीजो को स्वास्थ-सेवाओ की परेशानियों से जूझना पड़ता है, इसी तरह के परेशानियों को देखते हुए आकाश-वेलफेयर सोसायटी जो कि एक एनजीओ संस्था है, इस तरह की परेशानियों को देखते हुए गंभीर रूप से मरीजो जो कि रुपए-पैसों के अभाव में इलाज नही करा पाते जिसकी वजह से कुछ मरीजो की अकाल मौते भी हो जाती है, ऐसे मरीजो का निःशुल्क में इलाज हो जाए उसके लिए एक मुहिम एक अभियान चला रही हैं, जिसका ज्यादा से ज्यादा प्रचार-प्रसार हो सके जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगो को जानकारी प्राप्त हो सके ताकि इस तरह की गंभीर इलाजों के मरीजो को भटकना न पड़े पड़ा, ऐसे लोगो व ठीक हो चुके लोगो के माध्यम से हेल्प सेंटर पर संपर्क कर लाभ ले सकते है।

इसी को लेकर आज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोटा में संगोष्ठी  जागरूकता कार्यक्रम चलाया गया, कोटा एवं आसपास के ग्रामीण क्षेत्र के समस्त क्षेत्रवासियों से मीडिया-सोशल मीडिया के माध्यम से अपील किया गया कि आपातकालीन चिकित्सा व्यवस्था के लिए जिसमें एक्सीडेंटल केस, हेड-इंजरी, सिर का चोट एवं अन्य किसी भी आपातकालीन बीमारी या समस्या में इस संस्था को कॉल कर सकते हैं, जिसका मोबाइल नंबर 9131 362500, 8815152409, 7000489505 एवं आपातकालीन नि:शुल्क हेल्पलाइन नंबर 9300180203 में भी अपनी समस्या रजिस्टर्ड करवा सकते हैं,नि:शुल्क हेल्प सेंटर के माध्यम से अबतक लगभग 2 वर्षों में 2,000 से अधिक मरीजों का निजी-अस्पतालों में नि:शुल्क इलाज हो चुका है, इलाज के बाद स्वस्थ हो चुके मरीज भी अपने परिजन के साथ आज के कार्यक्रम में विशेष तौर पर आमंत्रित थे, हेड-इंजुरी के बाद स्वस्थ हालात में बच्ची के द्वारा आज नि:शुल्क हेल्प-सेंटर का उद्घाटन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोटा में किया गया एवं बैनर पोस्टर चिपकाया गया,भारती पाठक, पिता दुर्गा प्रसाद पाठक, उम्र 6 वर्ष, निवासी बेलगहना को 15-7-2018 का एक्सीडेंट हो जाने से सिर में गंभीर चोटें आई थी,गंभीर रूप से चोट के बाद बच्ची कोमा में चली गई थी, परिवार की आर्थिक माली-स्थिति खराब थी, महंगे प्राइवेट अस्पतालों में इलाज कराने में  असमर्थ थे, जिसके बाद हेल्प सेंटर के बारे में जानकारी मिलने के बाद संपर्क किया गया उसके बाद हेल्प सेंटर द्वारा बिलासपुर के ही एक निजी चिकित्सालय में नि:शुल्क इलाज हेल्प-सेंटर के माध्यम से नि:शुल्क इलाज कराया गया आज बच्ची पूर्णरूप से स्वस्थ है, बच्ची के पिता द्वारा हेल्प सेंटर के सदस्यों जफर अली व आकाश गुप्ता का आभार व्यक्त किया भावुक होते हुए। इसी प्रकार से हेल्प सेंटर द्वारा कोटा विकासखंड के ग्राम पंचायत बेलगहना निवासी कुमारी सुमन विश्वकर्मा उम्र 18 वर्ष पिता सुखदेव विश्वकर्मा (मुन्ना लोहार) बिलासपुर छत्तीसगढ़ दिनांक 19 मई 2018 को एक दुर्घटना में चोट ग्रस्त होने से सिर में गंभीर चोटें आई थी,नि:शुल्क हेल्प सेंटर के कार्यक्रम अधिकारी एवं संयोजक जफर अली द्वारा पीड़ित परिवार को त्वरित जरूरी व्यवस्था कर नि:शुल्क हेल्प सेंटर  की माध्यम से मरीज को रायपुर में रायपुरा चौक महादेव घाट रोड में स्थित ओम-हॉस्पिटल में तत्काल भर्ती कराकर नि:शुल्क इलाज करवाना शुरू करा दिया गया, कुछ ही दिनों में बालिका के उपचार के बाद मरीज कोमा से बाहर आ गई आज स्वस्थ होकर अपने घर में है, इसी प्रकार से मालिकराम पिता कुंजराम उम्र 54 वर्ष निवासी कोटा इनका पैर का घाव बनकर पूरी तरीके से पक चुका था,यहा तक घाव की वजह से पैर काटने की नौबत आ गई थी, पिछले 2 साल से खाट पर पड़े हुए थे चलने फिरने में काफी परेशानियों का सामान करना पड़ता था, इनको भी हेल्प सेंटर की जानकारी में आने के बाद इनका भी इलाज रायपुर के ओम हॉस्पिटल में इलाज करवाया गया वर्तमान में मालिकराम पूर्ण रूप से तरह स्वस्थ है,बेलगहना के मरीजो को हेल्प-सेंटर तक पहुचाने ने पूर्व जनपद-अध्यक्ष संदीप शुक्ला का भी महत्त्वपूर्ण योगदान रहा आज के कार्यक्रम में जफर अली नि:शुल्क हेल्प-सेंटर कार्यक्रम अधिकारी एवं संयोजक, आकाश गुप्ता आकाश-वेलफेयर फाउंडेशन- सचिव,अलेक्जेंडर एम.चेरियन बस्तर में इलाज वाले बाबा के नाम से प्रसिद्ध राजेश गुप्ता (बल्लू गुप्ता) आदित्य दीक्षित सुरभि श्रीवास्तव, कनक महालक्ष्मी, कमलेश कुंभकार, डॉ. रिचा यादव एवं अन्य गणमान्य नागरिक अस्पताल स्टाफ मरीजों के परिजन उपस्थित रहे।

 

error: Content is protected !!