भाजपा नेताओं को लोकतांत्रिक परंपराओं और विपक्ष की भूमिका का ज्ञान नही : विकास तिवारी

०० मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से माफी मांगे पूर्व मुख्यमंत्री एवं नेता प्रतिपक्ष : कांग्रेस

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि 15 साल सत्ता का सुख भोगने के बाद अब पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह एवं नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक को विपक्ष की भूमिका क्या और कैसी होती है, यह ज्ञान नही हो पा रहा है। जनता ने जिन्हे सत्ता से बेदखल कर दिया वह भाजपा अब झूठ और अफवाहों का सहारा लेकर जनता की आवाज बनने का झूठा स्वांग रच रहे है। राजनांदगांव निवासी मांगीलाल अग्रवाल द्वारा 13 जून को एक वीडियों जो कि बिजली कटौती के नाम पर वायरल की गयी थी। जिसके कारण उन पर धारा 124 ए एवं धारा 505 लगाई गयी थी। इस पर तत्काल संज्ञान लेते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उक्त धाराओें को हटवाने के लिये पुलिस के आला-अधिकारियों को कहा और उन्होंने बोला था कि हम अभिव्यक्ति की आजादी के पक्षधर हैैै लोकतंत्र में सरकार की आलोचना एवं विरोध करना लोकशाही का ही हिस्सा है। मांगीलाल अग्रवाल द्वारा प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को प्रेषित किये गये पत्र के शब्दो से स्पष्ट होता है। कि प्रदेश भाजपा के  षडयंत्रकारी नेताओं के फोन अपनी राजनीतिक रोटिया सेकने के लिए बार-बार उनके पास आ रहे है, और उन्हें मानहानि का मुकदमा करने के लिए दबाव बना रहे जिससे कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं कांग्रेस सरकार को बदनाम किया जा सके। मांगीलाल अग्रवाल ने भाजपा के षडयंत्रकारी नेताओं को  स्पष्ट शब्दों में  कहा कि उन्हे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से किसी भी प्रकार की शिकायत नहीं बल्कि उन्होंने 15 सालों में ऐसा मुख्यमंत्री नहीं देखा जो त्वरित कार्यवाही कर उनके उपर लगे राजद्रोह के धाराओं का आरोपी बनने से बचाया हो उन्होंने मुख्यमंत्री के प्रति आभार भी व्यक्त किया है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि मांगीलाल अग्रवाल के कथन के बाद भाजपा के षडयंत्रकारी नेताओं एवं पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से माफी मांगनी चाहिए और लोकतंत्र के अनुरूप एक सकारात्मक विपक्ष की भूमिका निभाने की सीख भी कांग्रेस के शीर्ष नेताओें एवं कार्यकताओं से प्रदेश भाजपा को लेनी चाहिए।

 

error: Content is protected !!