पुलिस अधीक्षक अपने जिलों में आदर्श थाना बनाये : डी.जी.पी अवस्थी

रायपुर| पुलिस महानिदेशक श्र डी. एम. अवस्थी ने आज पुलिस मुख्यालय अटल नगर रायपुर में राज्य के सभी रेंज पुलिस महानिरीक्षक और सभी जिलों से आये पुलिस अधीक्षकों की बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य के सभी जिलों में एक-एक आदर्श थाना विकसित करें, इन थानों में सभी इन्फ्रास्ट्रक्चर उपलब्ध होने चाहिए और थाने में आने वाले व्यक्तियों को बैठने के लिए आगन्तुक कक्ष एवं स्वच्छ पेयजल इत्यादि की मूलभूत आवश्यकताएं उपलब्ध होनी चाहिए और इन सभी बातों के ऊपर थाना कर्मचारियों का व्यवहार मर्यादित होना चाहिए। सभी पुलिस अधीक्षकों को अपने थानों का स्वयं निरीक्षण भी करते रहना चाहिए और यह सुनिश्चित करें की थाने में आने वाला व्यक्ति थाने से संयुष्ट होकर वापस जाये तथा पुलिस थानों को और कितना बेहतर बनाया जाये यह सोचना चाहिए।

अवस्थी ने पुलिस अधीक्षकों को यह भी निर्देशित किया कि भारतीय पुलिस सेवा के प्रत्येक अधिकारी को गौरान्वित महसूस करना चाहिए कि हम शासन की व्यवस्था के एक महत्वपूर्ण अंग हैं और इस महत्वपूर्ण भूमिका के लिए हमारा चयन किया गया है अतः हमें आम नागरिकों की सुरक्षा और समाज में शांति व्यवस्था बनाए रखने में पूर्ण निष्ठा से कार्य करना चाहिए। उन्होंने सभी पुलिस अधीक्षकों को अपने पड़ोसी जिला पुलिस अधीक्षकों के साथ समन्वय से कार्य करने के निर्देश दिये। बैठक में विशेष पुलिस महानिदेशक श्री संजय पिल्ले, श्री आर. के. विज, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्री पवन देव और श्री अशोक जुनेजा ने भी पुलिस अधीक्षकों को संबोधित किया। पुलिस अधीक्षकों को पुलिस कर्मचारियों के मूलभूत समस्याओं को हल करने और सभी पुलिस कर्मचारियों से व्यक्तिगत रूप से मिलने के निर्देश दिये गये। इसी प्रकार पुलिस विभाग के जिला केडर के पदों में भर्ती प्रक्रिया में रोस्टर का पालन किये जाने, सेवा निवृत्त कर्मचारियों के लंबित पेंशन प्रकरणों, विभागीय जांच प्रकरणों का समय पर निराकरण करने और लेखा ऑडिट आपत्तियों का निराकरण करने के आवश्यक निर्देश दिये गये। साथ ही शासन के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए राजनीति प्रकरणों की वापसी के संबंध में शीघ्रता से कार्य करने के निर्देश दिये गये।

error: Content is protected !!