रेणुका सिंह को मिला जनजातीय कार्य मंत्रालय में राज्यमंत्री का प्रभार

रायपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नवनियुक्त कैबिनेट में मंत्रियों को विभागों का आबंटन कर दिया है। छत्तीसगढ़ से एक मात्र मंत्री रेणुका सिंह को जनजातीय कार्य मंत्रालय में राज्यमंत्री का प्रभार सौंपा गया है। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ से केंद्रीय मंत्रिमंडल में एक बार फिर रेणुका सिंह के रुप में आदिवासी को स्थान मिला है।

मोदी की पहली सरकार में भी यहां से आदिवासी विष्णु देव साय को ही केंद्र में राज्य मंत्री बनाया गया था। छत्तीसगढ़ की आबादी का करीब 52 फीसद हिस्सा आदिवासी है। राजनीतिक जानकारों के अनुसार केंद्रीय मंत्रिमंडल में यहां से आदिवासी को प्रतिनिधित्व देकर भाजपा ने न केवल छत्तीसगढ़ बल्कि देशभर के आदिवासियों को साधने की कोशिश की है। तेजतर्रार छवि वाली रेणुका इससे पहले राज्य की पूर्ववर्ती रमन सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुकी हैं। 2018 के विधानसभा चुनाव में सरगुजा संभाग में भाजपा को एक भी सीट नहीं मिली है। इसके बावजूद लोकसभा चुनाव में रेणुका ने सवा लाख से ज्यादा वोट से जीत दर्ज की। माना जा रहा है कि राज्य में मंत्री पद का अनुभव, आदिवासी होने और बड़े अंतर से जीत की वजह से ही उन्हें केंद्रीय मंत्रिमंडल में स्थान मिला है।

error: Content is protected !!