नारायणी साहित्य अकादेमी एवं चरामेति फाउंडेशन ने अक्षय तृतीया एवं रमजान में की शिक्षा सेवा

०० यतीमखाना के बच्चों एवं  अन्य बच्चों को वितरित की गई कापियां एवं लेखन सामग्री 

०० नारायणी साहित्य अकादेमी एवं चरामेति फाउंडेशन का  ‘शिक्षा के रंगबिखेरने का एक प्रयास 

रायपुर| सात तारीख को जहाँ एक ओर भगवान परशुराम जन्मोत्सव एवं अक्षय तृतीया जैसे त्यौहार थे तो वहीं दूसरी ओर मुस्लिम समुदाय का रमजान जैसा पाक महीना भी प्रारंभ हो रहा था। चरामेति फाउंडेशन एवं नारायणी साहित्य अकादमी “शिक्षा” के महत्व को जानते हुए जरूरतमंद्  बच्चों को कापियां एवं अन्य लेखन सामग्री लगातार वितरित कर रहे हैं। इस खास दिन को और महत्वपूर्ण बनाने के उद्देश्य से दोनों संस्थाओं ने जरूरतमंद   बच्चों को “शिक्षा सेवा” के तहत कापियां एवं अन्य लेखन सामग्री वितरित करने का निर्णय लिया और सुबह सफाई मित्रों को सब्जी बांटी, जरूरतमंद बच्चों पायल, हेमंत, भूषण, राजू आदि  को वर्ष भर में लगने वाली कापियां एवं पेन, पेन्सिल, रबर,  शार्पनर,  स्केल आदि  वितरित किया। 

इसके बाद शाम को  पोलिस लाइन के पास विद्या नगर में स्थित ‘मदरसा -इदार-ए-शरीया यतीमखाना’  के बच्चों को कापियों  के साथ ही आवश्यक  लेखन सामग्री, मिठाई, नमकीन तथा फल भी  वितरित किये। मोहम्मद फैजान,  रेहान खान,  अब्दुल ख़ालिद,  मोहम्मद नवाज, मोहम्मद शोएब,  मोहम्मद राज, आसिफ,  मोहम्मद मुश्ताक, मोहम्मद उस्मान,  मोहम्मद कासिम,  आदि ने बताया कि रमजान जैसे पाक महिने में पहली बार इस तरह पढाई संबंधी महत्वपूर्ण सामग्री हमें प्राप्त हुई जिससे हमें ज्यादा खुशी और पढाई के प्रति लगाव महसूस हो रहा है।जरूरतमंद बच्चे पायल, भूषण  आदि भी अक्षय तृतीया के दिन  पहली बार इस तरह की पढ़ाई की दृष्टि से बहुत काम की सामग्री प्राप्त करके खुशी का अनुभव कर रहे थे। संस्थापक मौलाना अशरफ़ ने दोनों संस्थाओं के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि  रमजान जैसे पाक महिने में की गई इस शिक्षा सेवा से संस्था के सदस्यों की दया भावना एवं सह्रदयता की जानकारी मिलती है। संस्था के महासचिव राजेंद्र ओझा ने बताया कि उपरोक्त कार्यक्रम डॉ मृणालिका ओझा, निर्मला दामुजी वी जगनमोहन, प्रशांत महतो,  टी रामप्रसाद राव,  सुधीर शर्मा, दीपक पात्रिकर,  प्रेम साहू,  प्रदीप शितूत,  मनोज राव, हाशिम,  डॉ शैलेन्द्र रात्रे, रमेश शर्मा, जुगल जी, विकास ठाकुर, जोगिंदर कुमार, जितेन्द्र भाई चौहान,पी एन सोलंकी,  के एल साहेब, रामानुज भाई पुरोहित   आदि की उपस्थिति एवं सहयोग से संपन्न हुआ।

 

error: Content is protected !!