एक लाख की इनामी महिला कमांडर सहित 15 नक्सलियो ने किया आत्मसमर्पण  

०० नेशनल पार्क एरिया कमेटी के नक्सलियों ने नक्सलपंथ से किया किनारा

०० आत्मसमर्पित नक्सलियों को एसपी ने दी दस दस हजार की प्रोत्साहना राशि

रायपुर/बीजापुर। बीजापुर इलाके में सक्रीय नक्सलियों की नेशनल पार्क एरिया को तगड़ा झटका लगा है। यहां के 15 नक्सलियों ने नक्सलपन्थ से तौबा कर पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया है, इसमें एक लाख इनाम की महिला नक्सली भी शामिल है।

पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सभागार में कलेक्टर केडी कुंजाम, पुलिस अधीक्षक गोवर्धन ठाकुर व सीआरपीएफ 85 के कमान्डेंट सुधीर कुमार की मौजूदगी में नेशनल पार्क एरिया के 15 नक्सलियों ने नक्सलवाद की खोखली विचारधारा से क्षुब्ध होकर मुख्यधारा में लौट आए है। नक्सलियों ने अफसरों के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। इनमें एक लाख की इनामी सीएनएम की महिला कमांडर इरपा वाचम, राजू राम वाचम, बंजाराम गोटा, वड्डे शंकर ने अपने अपने भरमार बंदूक के साथ सरेंडर किया है। इसके अलावा सुक्कू वाचम, रैनू वाचम, राजू वाचम, सुक्कू पल्लो, ओवाराम वाचम, सुक्कू वाचम, कु.जुर्री पल्लो, बुधरी तेलम, मांडी तेलम, सुनीता वाचम, व कु. जिम्मो वाचम शामिल है। आत्मसमर्पित नक्सलियों में सीएनएम, मिलिशिया, डीएकेएमस, व आरपीसी  के सदस्य है। उक्त नक्सलियों के विरुद्ध विभिन्न थानों में अपराध दर्ज है। आत्मसमर्पित नक्सलियों को एसपी ने दस दस हजार रुपये नगद प्रोत्साहन के तौर पर दी। इस दौरान एसपी गोवर्धन ठाकुर ने कहा कि हिंसा किसी भी मसले का हल नहीं है। उन्होंने नक्सलियों से अपील करते हुए कहा कि वे हिंसा छोड़कर समाज की मुख्यधारा से जुड़े और सरकार की जनकल्याणकारी नीतियों का लाभ लें। इस अवसर पर एसडीओपी कुटरू अशोक जोन पन्ना, एसडीओपी फरसेगढ खोमन सिन्हा, उप पुलिस अधीक्षक ऑप्स केसी टोप्पो, उप पुलिस अधीक्षक हेडक्वाटर सुधीर कुजूर उपस्थित रहे।

 

error: Content is protected !!