विक्रम उसेंडी कर रहे कांग्रेस पर भड़ास निकालने की नाकाम कोशिश : कांग्रेस

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता मोहम्मद असलम ने भारतीय जनता पार्टी के छत्तीसगढ़ इकाई के अध्यक्ष विक्रम उसेंडी के बयान पर पलटवार करते हुए कहा है कि विधायक एवं रायगढ़ संसदीय क्षेत्र के कांग्रेसी उम्मीदवार लालजीत सिंह राठिया द्वारा दिया गया वक्तव्य उनका नहीं है। यह तो प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा स्वयं समय-समय पर दिए गए उनके वक्तव्यो को जनता के समक्ष याद दिलाने के लिए बताया गया है। विमुद्रीकरण यानी नोटबंदी के फैसले एवं काला धन नहीं ला पाने की विफलता से देश भर में फैली आर्थिक अफ़रा-तफ़री और आम आदमी को हुई तकलीफों को लेकर जब मोदी जी की चौतरफा आलोचना हुई थी, तब अलग-अलग मौकों पर उनके द्वारा कहा गया था, कि “मुझ पर जुल्म हो रहे हैं“, “मेरे विरोधी मुझे बर्बाद करने पर तुले हैं“, “मेरा कोई क्या बिगाड़ लेगा, मैं तो फकीर हूं“, वह मुझे मार डालेंगे, मुझे फांसी पर ……., “देना, मुझे चौराहे पर……..“आदि आदि! इस तरह की भाषा का प्रयोग तो प्रधानमंत्री मोदी द्वारा खुद इस्तेमाल किया गया है। जनता के समक्ष प्रधानमंत्री मोदी के बयानों को कांग्रेस द्वारा स्मरण कराया जा रहा है तो भाजपा के नुमाइंदों को इसमें पीड़ा क्यों हो रही है? उसेंडी जी यह कांग्रेस का बयान नहीं है और ना ही राठिया जी ने प्रधानमंत्री को लेकर कोई अपशब्द कहा है उन्होंने जो कुछ भी कहा है वह प्रधानमंत्री द्वारा दिए गए वक्तव्य  ही है।

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता मोहम्मद असलम ने कहा है कि विक्रम उसेंडी द्वारा कांग्रेस प्रत्याशी को कोसने के स्थान पर अपने नेता के दिए गए बयानों पर पश्चाताप एवं मंथन करना चाहिए।  भाजपा अध्यक्ष द्वारा समूचे छत्तीसगढ़ के सभी लोकसभा क्षेत्रों में सुनिश्चित हार को देखते हुए अनावश्यक कांग्रेस पर भड़ास निकालने की नाकाम कोशिश  की जा रही है।प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता मोहम्मद असलम ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी ने छत्तीसगढ़ में अभी तक अपनी भाषा में कहीं संयम नहीं खोया है और ना ही कोई बदजुबानी की है। भा जा पा बौखलाहट में अनर्गल प्रलाप कर जनता से सहानुभूति अर्जित करना चाहती है, जिसमें वह कभी सफल नहीं होगी।

 

error: Content is protected !!