न्याय योजना में राहुल गांधी 72 हजार देने का वादा कर रहे, पर लाएंगे कहां से, इसकी योजना ही नहीं : गडकरी

०० केंद्रीय सड़क मंत्री नितिन गडकरी ने न्याय योजना को लेकर राहुल गांधी पर साधा निशाना 

०० पत्थलगांव की सभा में बोले गडकरी- झूठ की राजनीति कर रही है कांग्रेसमुस्लिमों व दलितों को दिखा रही डर

रायपुर/जशपुरकेंद्रीय सड़क, परिवहन एवं जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी ने न्याय योजना को लेकर राहुल गांधी और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आजादी के 70 सालों में कांग्रेस ने 50 साल शासन किया। इस दौरान पं. नेहरू,  इंदिरा गांधी, राजीव गांधी और फिर सोनिया गांधी के निर्देशन में चल रही मनमोहन सरकार गरीबी हटाओ का नारा देती रही, लेकिन इसे दूर नहीं कर सकी। अब राहुल गांधी गरीबी हटाओ के नारे के साथ आए हैं। केंद्रीय मंत्री गडकरी शुक्रवार को पत्थलगांव में हुई जनसभा में बोल रहे थे।

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा प्रत्याशी गोमती साय के समर्थन में शासकीय हाईस्कूल मैदान में हुई सभा में केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा, कांग्रेस प्रत्येक परिवार को 72 हजार रुपए देने की घोषणा कर रही है, लेकिन इसके लिए उनके पास कोई योजना नहीं है। वे इतनी बड़ी रकम लाएंगे कहां से। गडकरी ने राहुल गांधी और कांग्रेस पर झूठ की राजनीति करने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस मुस्लिमों को गुमराह कर रही है कि भाजपा आई तो उन्हें पाकिस्तान भेज दिया जाएगा। इसी तरह दलितों को संविधान बदलने का डर दिखाकर गुमराह किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के 5 वर्षों के कार्यकाल में कांग्रेस के 50 साल से अधिक और बेहतर ढंग से कार्य हुआ है और आगे भी सरकार गरीबों, मजदूरों और किसानों के कल्याण के लिए काम करती रहेगी। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की नीतियां गरीबों के लिए कल्याणकारी रही हैं। मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार के समय एक दिन में मात्र 2 किमी राजमार्ग का निर्माण हो रहा था, जबकि अब हर दिन 35 किमी राजमार्ग बन रहे हैं। मोदी सरकार में गंगा सफाई में बेहतर काम हुआ। अविरल व निर्मल बनाने के साथ ही गंगाजल आचमन योग्य हुआ है। प्रियंका गांधी आज प्रयागराज से वाराणसी तक यात्रा कर रही हैं। जबकि यूपीए सरकार में मॉरीशस के प्रधानमंत्री गंदगी के चलते बिना गंगा स्नान किए ही लौटे। केंद्र की मोदी सरकार ने किसानों के खेतों में पानी पहुंचाने के लिए छत्तीसगढ़ को लाखों करोड़ रुपए बांध बनाने के लिए दिए। भाजपा सरकार के दौरान प्रदेश में नए बांधों का निर्माण हुआ और अधूरे बांध पूरे हो सके। किसानों को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने बायोफ्यूल को बढ़ावा देने की नीति अपनाई। सरकार के प्रयासों से हेलीकॉप्टर और हवाईजहाज जेट्रोफा से चलाने के परीक्षण सफल हुआ। नागपुर में बायो सीएनजी से बसें और अन्य वाहन चलाए जा रहे हैं जिससे पूरे क्षेत्र को डीजल के धुएं से होने वाले प्रदूषण से मुक्ति मिली है वहीं किसानों के लिए रोजगार के नए अवसर पैदा हुए हैं। केंद्र के प्रयासों से एथेनॉल से बायो प्लास्टिक बनाने के परीक्षण सफल हुए। शीघ्र ही किसाना एथेनॉल से बायोप्लास्टिक का निर्माण करेंगे। इसके लिए देश में करोड़ों की लागत से एथेनॉल के प्लांट लगाए जा रहे हैं। यूपीए सरकार में प्रतिदिन 2 किमी हाईवे बनते थे, अब हर दिन 35 किमी का निर्माण हो रहा है।

error: Content is protected !!