मोदी भाजपा बताये आतंकवादियों के सरपस्त पाक साथ उनके क्या सम्बंध? :कांग्रेस 

०० इमरान के बयान से मोदी भाजपा और पाक का गठजोड़ उजागर 

रायपुर।  पाक पीएम इमरान खान के मोदी के पीएम बनने वाले बयान पर भाजपा को घेरते प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के द्वारा भारत के चुनाव मे मोदी की जीत की ख्वाहिश पर भारतीय जनता पार्टी जवाब दे। पाक प्रधानमंत्री के बयान से भाजपा और पाक के नापाक गठबंधन का खुलासा हो गया। यदि धोखे से भी जिसकी संभावना नहीं के बराबर है। यदि फिर से भाजपा की सरकार बन गयी तो पाकिस्तान में फटाके फूटेंगे। मोदी भाजपा को देश की जनता को बताना चाहिये देश की जनता उन्हें जब जब सत्ता सौंपी तब तब उनके प्रधानमंत्री पाक क्यो गये ? देश को राष्ट्रवाद का पाठ पढ़ाने वाली मोदी भाजपा का असल चेहरा देश के सामने उजागर हो गया। पाक की नीयत कश्मीर को हथियाना है कश्मीर में फैली अशांति के लिये पाक जिम्मेदार है और पाक के पीएम इमरान खान कश्मीर समस्या के हल के लिये मोदी को पीएम बनाना चाहते है। क्या मोदी भाजपा ने लोकसभा चुनाव जीतने पाक पीएम इमरान खान से कोई समझौता किया है। मोदी जी ने 2014 में हमारे एक सैनिक के शहादत पर पाक के दस सैनिको का सिर कलम करने की वादा किया था लेकिन चुनाव जीतने के बाद ठीक  वादा के विपरीत जा कर मोदी शपथ ग्रहण में पाक के पीएम को बुलाते हैं देश को अंधेरे में रखकर मोदी जी के अचानक पाक यात्रा में जाते है उपहार में शाल लेकर आते है। उसके बाद पाक के लिए मंगलकामना करते है। और देश मे पठानकोट, उरी, सहित पुलवामा में आतंकी घटनाएं होती है।

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा मोदी ने पाक के लिये जो मंगलकामना किये थे उसका असर अब दिख रहा है जब मोदी को जिताने पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान भी भाजपा के स्टार प्रचारक की भूमिका निभाते नजर आ रहे है। भाजपा के कथनी और करनी में जमीन और आसमान का अंतर है। मोदी भाजपा लोकसभा चुनाव जीतने इतनी गिरी हुई हरकत करेगी ये देश की जनता ने उम्मीद नही किया था। भाजपा को देश की जनता को बताना चाहिये आतंकवादी बनाने की फैक्ट्री पाक से उनके क्या सम्बंध है ? अब तक भाजपा के 11 साल तीन महीने तेरहा दिन के कार्यकाल में दो प्रधानमंत्री और एक उपप्रधानमंत्री ने पाक यात्रा कर अपने पाक प्रेम को जाहिर किया है। पूर्व प्रधानमंत्री स्वं अटल बिहारी बाजपेयी जी समझौता बस लेकर लाहौर गए उसके बाद कारगिल जैसे युद्ध से देश को गुजरना पड़ा था। भाजपा प्रधानमंत्रियों के पाक के प्रति नरम रुख के कारण ही पाक आतंकवादियों के हौसले बढ़े है। सीमा पर तैनात हमारे सैनिको का मनोबल कमजोर हुआ है। 

 

error: Content is protected !!