बुलेट पर भारी पड़ा बैलेट, बस्तर लोकसभा सीट के लिए हुए 45 प्रतिशत मतदान

०० पहले चरण में छत्तीसगढ़ की बस्तर लोकसभा सीट के लिए हुआ चुनावमहिलाओं में रहा उत्साह

०० दूसरे चरण में अब 18 अप्रैल को तीन सीटों कांकेरमहासमुंद व राजनंदगांव सीट पर मतदान

रायपुर/दंतेवाड़ा|  छत्तीसगढ़ की नक्सल प्रभावित लोकसभा सीट बस्तर के लिए गुरुवार को मतदान हुए। मतदाता न नक्सलियों की धमकी से डरे और न ही धमाकों से। नक्सलियों के ‘गनतंत्र’ के आगे मतदाताओं का ‘लोकतंत्र’ हावी रहा। लोकसभा चुनाव के पहले चरण में शाम 4 बजे तक 45 प्रतिशत वोट पड़े। फिलहाल चुनाव आयोग की ओर से अभी फाइनल आंकड़े जुटाए जा रहे हैं।

मतदान का बड़ा हिस्सा महिलाओं को समर्पित है। उनके उत्साह ने नक्सलियों की धमकियों को पैरों तले रौंद दिया। मतदान से दो दिन पहले ही मंगलवार शाम दंतेवाड़ा में नक्सली हमला हुआ। इसमें भाजपा विधायक भीमा मंडावी की मौत व 4 जवान शहीद हो गए थे। बावजूद इसके श्यामगिरी में जहां वारदात हुई थी, वहां महिलाएं, वृद्ध व युवा 4 किमी दूर से मतदान करने पहुंचे। दूसरे चरण में अब 18 अप्रैल को तीन सीटों कांकेर, महासमुंद व राजनंदगांव पर मतदान होगा।  पहले चरण में गुरुवार सुबह 7 बजे से शुरू हुआ मतदान, निर्विध्न संपन्न हुआ। उत्साह इतना ज्यादा था की धुर नक्सल प्रभावित क्षेत्र में भी मतदान शुरू होने से पहले ही लोग पोलिंग बूथ पर पहुंच गए। नक्सलियों के चुनाव बहिष्कार को देखते हुए 294 अतिसंवेदनशील मतदान केंद्रों का स्थान भी बदला गया था। 1 लाख से अधिक मतदाता प्रभावित हुए, बावजूद इसके वोट करने के लिए अपने गांव से 15 से 35 किमी तक का सफर तय किया। दो दिन पहले नक्सली हमले में मारे गए भाजपा विधायक भीमा मंडावी की पत्नी ओजस्वी मंडावी भी परिवार सहित मतदान करने पहुंचीं।

जवानों की सतर्कता ने नक्सलियों के मंसूबों पर फेरा पानी :- चुनाव बहिष्कार की धमकी दे चुके नक्सलियों ने नारायणपुर के धुर नक्सल प्रभावित क्षेत्र अबूझमाड़ के ओरक्षा में मतदान के बाद लौट रही पोलिंग पार्टी पर फायरिंग कर दी। करीब 10 मिनट चली मुठभेड़ में एक जवान घायल हो गया, जबकि नक्सली भाग निकले। इससे पहले नारायणपुर में ही फरसगांव और दंडवन के बीच आईईडी ब्लास्ट किया। हालांकि इसमें कोई हताहत नहीं हुआ। वहीं बीजापुर में मतदान से पहले बेंद्रे इलाके में आईईडी विस्फोट करने जा रहे चार नक्सलियों को जवानों ने गिरफ्तार किया। पकड़े गए सभी माओवादी माड़ डिवीजन के सदस्य हैं। वहीं दंतेवाड़ा के कुआकोंडा के हल्बारास पोलिंग बूथ में नक्सलियों ने पोस्टर लगाए।

error: Content is protected !!