डॉ. पुनीत गुप्ता की तलाश में पुलिस ने अस्पताल व घर में मारे छापे

०० डीकेएस अस्पताल घोटाला मामले में गुप्ता के हॉस्पिटल में मारा छापा, खंगाले दस्तावेज 

रायपुर| डीकेएस सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के 50 करोड़ घोटाले में फंसे पूर्व अधीक्षक डॉ. पुनीत गुप्ता की तलाश पुलिस ने शुरू कर दी है, पुलिस जल्द ही उनकी गिरफ्तारी करेगी। इसके लिए पुनीत गुप्ता के कई ठिकानों पर छापा मारा जा रहा है। गुरुवार को उनके हॉस्पिटल में भी छापा मारा गया और पुलिस ने वहां के दस्तावेज भी खंगाले।

गोल बाजार पुलिस पुनीत गुप्ता की तलाश में राजेंद्र नगर थाना इलाके में स्थित जीबीजी हॉस्पिटल में पहुंची। वहां पुनीत गुप्ता तो नहीं मिले, लेकिन पुलिस ने वहां रखे दस्तावेज खंगाले। पुलिस बुधवार को पुनीत गुप्ता का इंतजार करती रही, लेकिन वे बयान के लिए नहीं पहुंचे। उनकी जगह उनके वकील हितेंद्र तिवारी गोलबाजार थाना पहुंचे। उन्होंने डॉ. गुप्ता की तरफ से एक आवेदन दिया है, जिसमें तबीयत खराब हाेने के कारण बयान के लिए आने में असमर्थता जताई है| सीएसपी नसर सिद्दकी ने बताया कि डॉ. पुनीत गुप्ता को नोटिस जारी करके बुधवार दोपहर 12 बजे बयान के लिए बुलाया गया था, लेकिन वे उपस्थित नहीं हुए। पुनीत गुप्ता ने पुलिस से 20 दिन बाद का समय मांगा है।  इधर पुलिस ने डॉ. गुप्ता का आवेदन खारिज कर दिया है। पुलिस अब उनकी तलाश में जुटी है। आरोपी के विदेश भागने का भी शक है। इसलिए केंद्र सरकार को चिट्ठी लिखी जाएगी और उनके खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी कराया जाएगा। उन्होंने बताया कि पीएनबी से भी उन्हें कर्ज की फाइल मिल गई है। दस्तावेजों की जांच हो रही है।

 

error: Content is protected !!