आचार संहिता के वक्त ही मिशन शक्ति प्रोजेक्ट को क्यों किया गया लांच : भूपेश बघेल  

०० मिशन शक्ति को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश ने प्रधानमत्री मोदी पर किया जमकर हमला

रायपुर| भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस दोनों के बीच ‘मिशन शक्ति’ की सफलता का श्रेय लेने की होड़ मच गई है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मिशन शक्ति की सफलता का श्रेय लेने की कोशिशों पर केन्द्र की मोदी सरकार और भारतीय जनता पार्टी पर जमकर हमला बोला है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को चुनावी सभा लेने तीन जिलों के दौरे पर रवाना होने से पहले उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा द्वारा मिशन शक्ति की सफलता का श्रेय लेने पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि पीएम ने जिस उपलब्धि की जानकारी दी वो हमारे पास 2012 से मौजूद है। आचार संहिता के वक्त ही इस प्रोजेक्ट को क्यों लांच किया गया ये बड़ा सवाल है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी चुनाव में इसे आखिरी हथियार के तौर पर इस्तेमाल करना चाहते हैं। सीएम भूपेश ने कहा पीएम नरेंद्र मोदी और भाजपा ने अपनी हार स्वीकार कर ली है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा का भारत के संविधान पर यकीन नहीं है। पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर के वंशवाद के आरोपों पर सीएम भूपेश ने तंज कसते हुए कहा कि अजय चंद्राकर को पहले अपने घर में देख लेना चाहिए। उन्हें रमन-अभिषेक और जूदेव परिवार के बारे में भी जानकारी ले लेनी थी। उन्होंने दावा किया कि हमारे कार्यकर्ता दमखम से लड़ेंगे और विधानसभा चुनाव में हमने तीन चौथाई वोट से जीत दर्ज की थी, अब लोकसभा में यहां की सभी सीटें जीतेंगे।

error: Content is protected !!