जमानती शहजादे की चरणवंदना में जमानती मुख्यमंत्री : भाजपा

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को सत्तावादी अहंकार और आत्ममुग्धता से बाहर आकर राजनीतिक सच्चाई का सामना करने का नसीहत दी है।  भाजपा प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने मुख्यमंत्री पर कटाक्ष करते हुए कहा कि भाजपा की फिक्र छोड़ बघेल अपने जमानती शहजादे की जीत-हार पर चिंतन करें। भाजपा का कोई भी प्रत्याशी हार के डर से मैदान छोड़कर उस तरह नहीं भाग रहा है, जिस तरह भागकर उनकी पार्टी के अध्यक्ष ने `एक नई मिसालÓ पेश की है। उत्तरप्रदेश में कांग्रेस की नई तारणहार बनाई गईं प्रियंका गांधी संपत्ति का ब्योरा देने से बचने चुनाव नहीं लड़ रही है। यही डर कांग्रेस को ऊपर से नीचे तक सता रहा है। नक्सलियों को क्रांतिकारी बताने वाले राजबब्बर चुनाव लडऩे से मना कर चुके हैं। कांग्रेस के कई और बड़े सूरमा इस बार के चुनावी-परिदृश्य से नदारद नजर आ रहे हैं।

भाजपा प्रवक्ता उपासने ने कहा कि भाजपा के प्रत्याशी हार के डर से घबराते नहीं और जीत के उत्साह में इतराते नहीं है। भाजपा जीतती है तो देश-प्रदेश में विकास और राष्ट्रवाद का भाव प्रखर होता है। भाजपा चुनावी हार की निराशा को हिम्मत से पस्त करने का हुनर जानती है। विस चुनाव में हारने के बाद पार्टी के कार्यकर्ता अब लोकसभा चुनाव में अपने पुरुषार्थ से सभी 11 सीटें जीतकर अपने राजनीतिक पराक्रम का नया अध्याय रचने के लिए कटिबद्ध हैं जबकि कांग्रेस अपने सभी प्रत्याशियों की घोषणा तक प्रदेश में नहीं कर पाई है। भाजपा सांसदों ने अपनी टिकट कटने पर भी सहृदय विशालता दिखाई पर कांग्रेस में पूरा टिकट वितरण नहीं होना अंतर्कलह के जगजाहिर हो जाने के डर को रेखांकित कर रहा है।  उपासने ने कहा कि हार का डर और सत्ता का विछोह कांग्रेसियों को किस तरह बदहवास कर रहा है, यह पूरा देश देख-सुन रहा है जो कांग्रेस नेताओं के बयानों-भाषणों की भाषा में भी साफ झलक रहा है। कांग्रेस तो अब अपनी ऐतिहासिक पराजय की ओर अग्रसर है और एक जमानती मुख्यमंत्री अपने जमानती शहजादे की चरणवंदना में चाहे जितना लोटपोट हो जाएं, उसमें भी उसकी हार का डर झलक रहा है।

error: Content is protected !!