नीतिया ऐसी बने जिससे प्रदेश का सर्वागीण विकास हो : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

०० अभा अग्रवाल सम्मेलन प्रदेश इकाई व अग्रवाल सभा के कार्यक्रम में शामिल हुए मुख्यमंत्री बघेल

रायपुर। सर्वजन हिताय-सर्वजन सुखाय की नीति पर हमारी सरकार चल रही है, ताकि सभी क्षेत्रों का संतुलन बराबर बना रहे। जो भी कार्यक्रम या नीतियां बने उससे 99 प्रतिशत लोगों का भला हो और वह नियम व कानून से चले तभी समाज और व्यापार आगे बढ़ेगा और छत्तीसगढ़ का विकास होगा। अभा अग्रवाल सम्मेलन प्रदेश इकाई व अग्रवाल सभा रायपुर के संयुक्त तत्वाधान में रविवार को अग्रसेन धाम में आयोजित मुख्यमंत्री सम्मान समारोह में पूरे प्रदेश से अग्रबंधु जुटे हुए थे। उनकी इस उपस्थिति का स्वंय अभिवादन करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि समूचे प्रदेश के सर्वांगीण विकास के संतुलन बेहद जरूरी है। कृषि और उद्योग व्यापार का साथ चलना जरूरी है। यहां लोहा, कोयला और अन्य खनिज संसाधनों की बहुतायत है, सरगुजा से लेकर बस्तर तक बहुत सी चीजों की उपलब्धता है इसलिए हमारा प्रयास है कि उद्योग नीति ऐसी बने जिससे यहां के लोगों को रोजगार मिले और आपका व्यापार भी बढ़े। वनांचल क्षेत्रों से जुड़े लघु वनोपजों से वनवासी भाईयों को चार पैसा ज्यादा मिले, इस दिशा में भी विचार विमर्श बहुत जरूरी है। तभी प्रदेश विकसित हो सकेगा। जीएसटी, नोटबंदी जैसे जटिल नियमों से यहां के लोगों की जेबें खाली हो गई थी जिसे हमारी सरकार ने भरा और आपके लिए ग्राहक पैदा किया है। अग्रवाल समाज के सेवाभावी कार्यों की प्रशंसा करते हुए श्री बघेल ने कहा कि आज जिस आत्मीयता से उन्होने स्वागत किया है वे अभिभूत है। ऐसे आयोजनों के माध्यम से मिलते जुलते रहना चाहिए और यह छत्तीसगढ़ राज्य के हित में भी होगा।
छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डा.चरणदास महंत ने जब अग्रवाल समाज की गौरवशाली गाथा का उल्लेख किया तो समाज के बड़े बुजुर्ग भी अचंभित रह गए। उन्होंने कहा कि सबसे बड़ा राष्ट्रीय राजमार्ग भी अग्रसेन महाराज जी के नाम पर हैं। स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन में भी अग्रवाल समाज का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। धर्मशाला, चेरिटेबल ट्रस्ट जैसे कई सेवाभावी कार्य समाज की पहचान है। जीएसटी-नोटबंदी जैसे विषयों से उद्योग व्यापार से जुड़े आप लोगों को भी कष्ट हुआ है लेकिन हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने इसे समझा है और दूर करने का प्रयास हम सब कर रहे हैं। आप सभी एक दूसरे का सहयोग करें और प्रदेश के विकास में सहभागी बने। राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने अपनी सरकार की ओर से भरोसा दिलाते हुए कहा कि अब किसी भी वर्ग को तकलीफ नहीं होगी। 25 सौ रूपए क्विंटल समर्थन मूल्य देने वाली छग पहली सरकार है,सरकार बनने के बाद अब तक जो भी कदम उठाये गए हैं भरपूर समर्थन लोगों का मिल रहा है। सरकार बनाने में अग्रवाल समाज का भी योगदान रहा है। शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने भी संबोधित किया। पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि अग्रवाल समाज सिर्फ व्यापार ही नहीं करते हैं बल्कि समाज की सेवा में भी पीछे नहीं हैं। मंच पर उपस्थित मुख्यमंत्री से अनुरोध करते हुए कहा कि अब आपकी सरकार है इसलिए इनके हितों का ध्यान रखना आपकी जिम्मेदारी है। सम्मान समारोह में नगरीय निकाय मंत्री शिव डहरिया, कांग्रेस विधायक सत्यनारायण शर्मा, कुलदीप जुनेजा, विकास उपाध्याय, महापौर प्रमोद दुबे भी उपस्थित थे।
इससे पूर्व कार्यक्रम प्रभारी मनमोहन अग्रवाल ने सम्मान समारोह आयोजन की रूपरेखा को उल्लेखित करते हुए काफी अरसे बाद अग्रवाल समाज के सदस्यों की पूरे प्रदेश से भारी संख्या में उपस्थिति का अभिनंदन किया। प्रदेश इकाई अग्रवाल सम्मेलन के अध्यक्ष हनुमान प्रसाद अग्रवाल ने स्वागत भाषण देते हुए छत्तीसगढ़ सरकार की नरवा घुरवा बारी और गोठान योजना को छत्तीसगढ़ की माटी से जुड़ा हुआ बताते समाज की ओर से पहल करते हुए कहा कि सरकार जो भी सहयोग चाहे अग्रवाल समाज करने तैयार है। अग्रवाल सभा रायपुर के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश अग्रवाल ने अभिनंदन पढ़ा। सभी अतिथियों का स्मृति चिन्ह, शाल श्रीफल भेंटक अभिनंदन किया गया।

error: Content is protected !!