डॉ रमन सिंह ने तो 2012 में किया था सीबीआई को बैन : कांग्रेस

00 सीबीआई को बैन करने का कारण अमित शाह रमन सिंह से पूछते तो ज्यादा बेहतर होता

०० अमित शाह के बयान पर कांग्रेस ने किया पटलवार 
रायपुर। अमित शाह के सीबीआई बैन वाले बयान पर पलटवार करते हुए प्रदेश कांग्रेस महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि अमित शाह, डॉ. रमन सिंह और भाजपा जनता को गुमराह करने के बजाये छत्तीसगढ़ में भाजपा सरकार ने राजपत्र में आदेश जारी कर 2012 में सीबीआई को बिना अनुमति कार्यवाही करने से रोकने का स्पष्ट कारण बताए। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह भाजपा की सरकार ने 2012 में ही सीबीआई को छत्तीसगढ़ में बिना अनुमति कार्यवाही करने से प्रतिबंधित किया था। उसी के नोटिफिकेशन को कांग्रेस सरकार ने केंद्र सरकार के पास भेज कर अपनी संवैधानिक जिम्मेदारी को निभाया है, तो भाजपा के पेट में मरोड़ उठने लगी। 

सीबीआई को बैन करने का कारण अमित शाह रमन सिंह से पूछते तो ज्यादा बेहतर होता। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आज छत्तीसगढ़ की पवित्र पावन धरती से कांग्रेस की भूपेश बघेल सरकार के खिलाफ अमर्यादित, असंतुलित बयानबाजी करने के साथ-साथ झूठ का सहारा लिया है। सच्चाई तो यह है कि पांच साल से केंन्द्र की नरेन्द्र मोदी की सरकार सीबीआई को विपक्षी दल के नेताओं के खिलाफ हथियार की तरह इस्तेमाल कर रही है। कांग्रेस की भूपेश बघेल की सरकार का स्पष्ट मानना है, राज्य के नागरिकों की सुरक्षा की जिम्मेदारी राज्य सरकार की है और किसी के साथ भी अन्याय ना हो और जिनके साथ भी अन्याय हुआ उनको न्याय मिले, इसकी भी जिम्मेदारी राज्य सरकार की होती है। जहां पर छत्तीसगढ़ की सरकार को लगता है कि सीबीआई जांच की आवश्यकता है, वहां सीबीआई जांच भी कराई जाएगी। सीबीआई को किसी विषय में जांच करनी है, तो सीबीआई इसकी छत्तीसगढ़ सरकार से अनुमति लेकर निष्पक्ष जांच करें। इसमें अमितशाह को क्या आपत्ति है?
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि कांग्रेस सरकार के जनकल्याणकारी कार्यो से और भाजपा शासनकाल में फैले प्रशासनिक आतंकवाद से राज्य को 60 दिनों में मुक्त कराने से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की बढ़ती लोकप्रियता से भाजपा का राष्ट्रीय नेतृत्व भयभीत है। विधानसभा चुनाव में भाजपा को मिली करारी हार और कांग्रेस को मिले जनादेश से भाजपा नेतृत्व बौखलाहट में अपना मानसिक संतुलन खो बैठा है। आने वाले लोकसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ में और पूरे देश में भाजपा को अभी से बुरी तरह से पराजय स्पष्ट दिखाई दे रही है। बौखलाहट में अमित शाह और भाजपा के नेता कांग्रेस सरकार द्वारा किए जा रहे जन कल्याणकारी एवं राज्य हित के फैसलों पर मीन मेख निकालने में लगे हैं।
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी ने सीबीआई को बैन नहीं किया है, बल्कि सीबीआई को जिस विषय में जांच करनी है उसके लिए राज्य सरकार से अनुमति लेने के लिए कहां गया है। सीबीआई को राज्य में किस अधिकार पर काम करना है, इसके लिए संविधान में व्यवस्था है, उसी का पालन यहां पर करवाया जा रहा है।
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भाजपा शासनकाल में सीबीआई के जांच के दौरान सीबीआई के अधिकारी पीड़ितों को प्रताड़ित कर अवैध वसूली में लिप्त पाए गए हैं। उमेश ठाकुर पत्रकार हत्याकांड के आरोपी सीबीआई की प्रताड़ना से व्यथित होकर सीबीआई के ही लॉकअप में आत्महत्या कर ली पूर्व मंत्री राजेश मूड़त सेक्स सीडी कांड के मुख्य गवाह रिंकू खनूजा जिसको सीडी बनाने से लेकर सीडी बांटने तक भाजपा के कौन-कौन नेता और सरकार के कौन-कौन चाटुकार अफसर शामिल है, इसकी पूरी जानकारी थी जो सीबीआई के द्वारा प्रताड़ित होकर आत्महत्या कर लिया।

error: Content is protected !!