स्व-सहायता समूह महिला सशक्तिकरण के लिए कारगर : टीएस सिंहदेव

०० अम्बिकापुर में बनेगा बिहान का जिला स्तरीय फेडरेशन भवन

०० ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान कार्यक्रम सम्पन्न

रायपुर/अम्बिकापुर| छत्तीसगढ़ शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, चिकित्सा शिक्षा, योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी, बीस सूत्रीय, वाणिज्यिकर जी.एस.टी. मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव के मुख्य आतिथ्य में छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान के अंतर्गत आदिशक्ति आजीविका विकासखंड संगठन लुण्ड्रा का शुभारंभ हुआ। श्री सिंहदेव ने इस दौरान अम्बिकापुर में राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन बिहान के जिला स्तरीय फेडरेशन भवन हेतु स्वीकृती प्रदान किया। साथ ही किसान ऋण माफी के तहत सांकेतिक रूप से 10 किसानों को ऋण माफी प्रमाण पत्र तथा राष्ट्रीय परिवार सहायता कार्यक्रम के तहत 4 हितग्राहियो को 20-20 हजार रुपये का सहायता राशि का चेक वितरित किया गया। मुख्य अतिथि की आसंदी से कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्री सिंहदेव ने कहा कि समाज मंे महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए समूह के माध्यम से संगठित कर सुदृढ़ करना जरूरी है। उन्होंने कहा कि शासन ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत समूह के माध्यम से महिलाओं को सामाजिक एवं आर्थिक सशक्तिकरण की दिशा में पहल कर रही है।
सिंहदेव ने कहा कि समूह के बेहतर संचालन पर तीन महीने में 15 हजार एवं 6 महीने में 60 हजार तथा 1 वर्ष में 2 से 5 लाख रूपए तक की राशि बैंक के माध्यम से उपलब्ध कराया जाता है। उन्होंने कहा कि समूह से प्राप्त राशि को ब्याज में ऋण देने के बजाय अन्य व्यावसायिक कार्यो में लगाएं, ताकि बेहतर फायदा मिल सके। श्री सिंहदेव ने कहा कि हमारी सरकार ने घोषणा पत्र में किए वादे को शीघ्रता से पूरी कर रही है। इसी कड़ी में किसानों की कर्ज माफी के तहत अब सहकारी बैंक एवं ग्रामीण बैंक के अलावा 21 व्यवसायिक बैंको से लिए गए अल्प कृषि ऋण को भी माफ किया जा रहा है। सरगुजा जिले में सहकारी बैंक एवं ग्रामीण बैंक के 20 हजार 771 किसानों के 56 करोड़ 25 लाख रुपए का ऋण माफ किया गया है। वनाधिकार पत्र में भी हमारी सरकार की स्पष्ट नीति है कि 13 दिसंबर 2005 से पूर्व वन भूमि पर काबिज अजजा एवं इसी तिथि से तीन पीढ़ी तक वन भूमि में काबिज अन्य जातियों को वनाधिकार पत्र दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार विद्या मितानों को 31 मार्च के बाद पुनः वापस रखने के साथ ही समान  मानदेय देगी। आने वाले समय मे शिक्षकों की भर्ती होने वाली है उसमे विद्या मितानों को प्राथमिकता दिए जाने पर विचार किया जाएगा। श्री सिंहदेव ने चिटफंड कंपनियों में पैसा निवेश करने के प्रति आगाह करते हुए कहा कि किसी भी कंपनी में निवेश करने से पहले  अच्छी तरह से छान-बीन कर ले। कंपनियों के भ्रामक प्रलोभनों से सतर्क रहें। उन्होंने बताया कि पीएसीएल कंपनी में किए गए निवेश की राशि को वापस दिलाया जा रहा है। जिनके भी पैसे इस कंपनी में लगें हैं वे जनपद पंचायतों के सुविधा केन्द्र में आवेदन कर सकते हैं। लुण्ड्रा विधायक डॉ. प्रीतम राम ने कहा कि स्व-सहायता समूह के द्वारा जीविकापॉर्जन के साथ ही सामाजिक सहभागिता के कार्य भी बखूबी से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लुण्ड्रा जनपद में अधिकांश  समूहों का पंजीयन कराया गया है और इनके द्वारा सुचारू संचालन किया जा रहा है। उन्होंने विकासखण्ड संगठन के संचालन में लिए सभी जरूरी संसाधन उपलब्ध कराने की बात कही। कार्यक्रम को जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष श्री रामदेव राम, आदिशक्ति आजीविका विकासखण्ड संस्थान की अध्यक्ष श्रीमती मधु सिंह ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य श्री राकेश गुप्ता, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती नम्रता गांधी, जनपद सीईओ श्री संजय दुबे सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में समूह की महिलाएं उपस्थित थीं।

error: Content is protected !!