विधानसभा : सदन में एक स्वर में गूंजा हम देश के जवानों के साथ

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा में सभी सदस्यों ने एक स्वर में सेना की कार्रवाई की सराहना की है। सदन में विधानसभा अध्यध्क्ष डॉ. चरणदास महंत ने कहा कि सदन वायुसेना की पराक्रम की सराहना करता है। हम देश की सेना और वायुसेना के साथ हैं।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि दुनिया में भारतीय सेना सर्वश्रेष्ठ है। हम सेना की इस कार्रवाई का समर्थन करते है। देश के जवान अतुलनीय है। संसदीय कार्यमंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि वायुसेना की इस कार्रवाई का हम समर्थन करते हैं, लेकिन उन्होने यह भी कहा कि आखिर कश्मीर में आतंकवाद इस हालात तक कैसे पहुंच गया। इस पर भी चिंता करनी चाहिए।  विधायक और पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा कि पुलवामा में पाकिस्तान ने कायराना हरकत की थी। पाकिस्तान को करारा जवाब बहादुर सैनिकों ने मिलकर दिया है। पाकिस्तान के लांचिंग पैड को खत्म किया है। हम अपनी सेना को सलाम करते हैं। पाकिस्तान को ये याद दिलाना चाहते है कि ऐसे समय भारत एक है। किसी को राजनीति नहीं करनी चाहिए। मैं सेना को विशेषकर वायुसेना को धन्यवाद देता हूं।  नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा पाकिस्तान पर हुए हमले को लेकर एयरफोर्स को बधाई दी। देश की भावना के अनुरूप ये कार्रवाई हुई है। मंत्री मो.अकबर ने कहा कि सभी आतंकी ठिकाने ध्वस्त किया जाना चाहिए। ये मानवीय मूल्य के खिलाफ है। हम सेना के साथ हमेशा खड़े हैं।  विधायक अजय चन्द्राकर ने कहा कि रात 3.30 बजे पीओके में जो कार्रवाई की यह देश चाहता था। पूरा सदन देश और सेना के साथ है। इस बात पर किसी तरह की राजनीति नहीं होनी चाहिए। कश्मीर के हालात आज के नहीं है। कई दशकों से ऐसे हालात बने हैं, हम सब सेना के साथ खड़े हैं। बीजेपी विधायक नारायण चंदेल ने कहा कि वायुसेना की यह कार्रवाई देश के जनमानस की भावना थी।  बीजेपी विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि आज भारत की सेना ने कुशल नेतृत्व की वजह से पाकिस्तान पर हमला किया है। भारत की सेना आंख उठाने वालों को करारा जवाब देने के लिए सक्षम हैं। इस पर राजनीति करना दुर्भाग्यपूर्ण है।  जेसीसी विधायक धर्मजीत सिंह ने कहा कि मुझे लगता है कि हाफिज सईद और मकसूद अजहर नहीं मरे होंगे, जब तक ये दोनों न मर जाए तब तक पाकिस्तान पर बमबारी होनी चाहिए। दो गुंडे आकर यहां नुकसान पहुंचकर चले जाते हैं, हमारा देश ये कब तक बर्दाश्त करेगा। लाहौर और मुज्जफराबाद भारत से लगे हुए हैं, वहां की लाइट दिखती है। सेना चाहे तो दो दिनों में वहां कब्जा कर ले।  कांग्रेस विधायक मोहन मरकाम ने कहा कि इस कार्रवाई के लिए सेना को बधाई, लेकिन इस मुद्दे पर मौजूदा सरकार वाहवाही लूट रही है, इसके पहले भी कई बार सर्जिकल स्ट्राइक होता रहा है लेकिन कभी सरकार इसका राजनीतिक फायदा नहीं उठाती थी। बीजेपी विधायक शिवरतन शर्मा ने कहा कि कश्मीर में हालात 1985 के बाद बिगड़े हैं।

error: Content is protected !!