छत्तीसगढ़ में समाप्त हुआ आपराधिक राजनैतिक षडय़ंत्रों का युग : कांग्रेस

०० भाजपा के राज में चल रहा था राजनैतिक और प्रशासनिक रूप से ब्लेकमेलिंग का पूरा कारोबार

रायपुर। कांग्रेस सरकार की ओर से भ्रष्टाचार के खिलाफ की जा रही जांच और कार्रवाई को भाजपा ने भय फैलाने की कार्रवाई बताने पर कांग्रेस ने कड़ी आपत्ति व्यक्त की है। प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा बताएं कांग्रेस सरकार की कौन सी कार्रवाई से भय पैदा हो रहा है? और कौन लोग भयाक्रांत है? छत्तीसगढ़ का आम आदमी तो नई सरकार के निर्णयों से बहुत खुश है। भाजपा राज में फैली प्रशासनिक अराजकता के समाप्त होने के कारण लोगों ने राहत की सांस ली है। लोगों को अपने रोजमर्रा के कार्यों के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाने की मजबूरी समाप्त हो रही है।
प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा है कि आपराधिक राजनैतिक षडय़ंत्रों का युग छत्तीसगढ़ में समाप्त हुआ। भय तो भाजपा ने अपने सरकार के राज में फैला रखा था, विपक्षी दलों के नेताओं की चरित्र हत्या करने के लिए जनसंपर्क विभाग में षडयंत्र रचा जाता था। पुलिस का आला अधिकारी की ओर से सरकार के संरक्षण में गैर कानूनी ढंग से फोन टेपिंग करवाई जाती थी। बेकसूर लोगों को फंसाने के लिए झूठे साक्ष्य गढ़े जाते थे। राजनैतिक और प्रशासनिक रूप से ब्लेकमेलिंग का पूरा कारोबार भाजपा के राज में चल रहा था, कानून को भाजपाई सत्ताधीशों और चंद भ्रष्ट और चाटुकार अधिकारियों ने अपना खिलौना समझ रखा था। जो आवाज तत्कालीन सरकार के खिलाफ उठती थी उसे परेशान करने और कानूनी पचड़े में फंसाने का पूरा सामान भाजपा सरकार में बैठे हुये कुछ ताकतवर अधिकारियों ने तैयार कर रखा था। अब समय बदल गया छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के राज में कानून अपना काम निष्पक्ष और प्रभावी ढंग से कर रहा है तो भाजपाइयों और षडय़ंत्रकारियों को भय सता रहा है।

error: Content is protected !!