रायपुर से दिल्ली तक दलालों और बिचौलियों से घिरी हुई कांग्रेस की सल्तनत : नरेन्द्र मोदी

०० राज्य की नई सरकार ने सबसे पहले किया आयुष्मान भारत योजना को बंद करने का काम

०० कांगेस के ज्यादातर सदस्य या तो जमानत पर हैं या फिर अग्रिम जमानत पर : मोदी

रायपुर/रायगढ़| प्रधानमंत्री मोदी एक दिवसीय प्रवास पर रायगढ़ पहुचे थे इस दौरान उन्होंने आमसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा| हुए कहा कि उन्होंने अपने उद्बोधन में लोकसभा के मद्देनजर भाषण की शुरूआत करते हुए कहा कि कांग्रेस ने 55 साल तक देश के नाम गरीबों का शोषण करने और उन्हें बर्बाद करने का काम किया है। जब मोदी ने गरीबों को उनके हक, उनके सपने, उनकी उम्मीदों को लेकर सपना दिखाया तो कांग्रेस इसे पचा नहीं पा रही है।

राज्य की नई सरकार ने सबसे पहले आयुष्मान भारत योजना को बंद करने का काम किया, जिससे लोगों के मन से मोदी की छाप को मिटा सकें, लेकिन ऐसा करने से एक बार फिर किसान और गरीब कैंसर, किडनी और बड़ी बीमारियों के इलाज के लिए अपना घर जमीन बेचने पर मजबूर होगा। पहले इस योजना के तहत गरीब सिर्फ इलाज कराता था, इलाज का पैसा सरकार अस्पताल के अकाउंट में भेज देती थी। उन्होंने कहा कि रायपुर से दिल्ली तक कांग्रेस की सल्तनत दलालों और बिचौलियों से घिरी हुई है। बिना दलाल बिना बिचौलियों की योजना कांग्रेस को रास नहीं आती है। कांग्रेस ऐसी योजना लाएगी जिसमें तुम खाओ हम खाएं की व्यवस्था हो। मोदी ने राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जो गलत नही करता उसे किसी जांच का डर नहीं होता, लेकिन राज्य सरकार ने तो सीबीआई को आने से भी मना कर दिया। अगर किसी ने कुछ किया नहीं तो वो किसी से डरेगा क्या। दिल्ली से कांग्रेस को यही संस्कार विरासत में मिले हैं। छत्तीसगढ़ सरकार को बक्से भर-भर कर नोट दिल्ली भेजना है। यही कारण है कि राज्य सरकार सीबीआई को नहीं चाहती है। मोदी ने कहा कांगेस के ज्यादातर सदस्य या तो जमानत पर हैं या फिर अग्रिम जमानत पर हैं। लेकिन देश गद्दारों, कांग्रेस के मामा और चाचा वाले दलालों को जो विदेश भाग गए हैं उन्हें हमारी सरकार लाने का काम कर रही है। यह कांग्रेस को रास नहीं आ रहा है। कांग्रेस का सिद्धांत है कि तुम भ्रष्टाचार करो और मिलावट करने वालों के साथ रहो। लेकिन देश का चौकीदार मोदी चुप बैठने वाला नहीं है। वो सबको देख रहा है। मोदी की भाषण सुनने उनके समर्थकों के साथ ग्रामीणों की भीड़ देखी गई। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पुख्ता इंतजाम किए गए थे। भाषण के दौरान लोग उनकी भाषण को एकटक निगाहों से देख व सुन रहे थे।

error: Content is protected !!