भारतीय जनता पार्टी का धरना बेशर्मी की पराकाष्ठा : कांग्रेस

०० प्रदेश की खराब कानून व्यवस्था के नाम पर और जीरम, अंतागढ़, नान घाटाले की जांच के विरोध में भाजपा दे रही धरना

०० पत्रकारों से मारपीट व गाली-गलौज, गुंडागर्दी करने वाली भाजपा कौन से मुंह से कानून व्यवस्था के नाम पर दे रही है धरना

रायपुर। प्रदेश की खराब कानून व्यवस्था के नाम पर और जीरम, अंतागढ़, नान घाटाले की जांच के विरोध में भारतीय जनता पार्टी द्वारा दिये गये धरना को कांग्रेस ने बेशर्मी की पराकाष्ठा बताया है। प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि जिस भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारी अपने कार्यालय में सरेआम पत्रकारों से मारपीट और गाली-गलौज, गुंडागर्दी करते हैं, वह भारतीय जनता पार्टी कौन से मुंह से कानून व्यवस्था के नाम पर धरना देती है? नान घोटाले में भाजपा नेताओं ने ऐसा क्या किया था कि जिसके खुलने के डर से वे बदलापुर-बदलापुर का शोर अभी से मचा रहे है। छत्तीसगढ़ का हर नागरिक जानता है कि अंतागढ़ में भाजपा ने अपने राजनैतिक सहयोगियों के साथ मिलकर कांग्रेस के खिलाफ षडयंत्र रचा था। अब जांच हो रही है तो सजा मिलने के भय से चीख-चिल्लाहट मचा रही है। जीरम की सच्चाई सामने आने की संभावना में भाजपा को बदला क्यों नजर आ रहा? भाजपा ने ऐसा क्या किया था जो जांच होने से बदला लेने जैसा लग रहा है।

 

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बने अभी डेढ़ महिने ही हुये है, प्रदेश और राजधानी की जनता भारतीय जनता पार्टी के कुशासन और अराजकता को अभी तक भूली नही है। भाजपा के राज में ही इस प्रदेश ने झीरम जैसा दुर्दांत नरसंहार झेला है। भाजपा के राज में पिछले 15 वर्षो में नक्सल घटनाओं में हजारों नागरिकों और सुरक्षा बलों के जवानों ने अपने प्राण गंवाये है। दक्षिण बस्तर के तीन विकासखंडो तक सिमित नक्सलवाद भाजपा के कुशासन के कारण प्रदेश के 14 जिलों तक पहुंचते हुये राजधानी से लगे हुये जिलों तक पहुंच गया। एन.सी.आर.बी के आंकड़े बताते है कि भाजपा राज में महिलाओं के प्रति अपराध बढ़ गये थे। प्रदेश में हर दिन तीन बलात्कार की और हर तीसरे दिन एक सामूहिक बलात्कार की घृणित घटनायें होती थी। राजधानी रायपुर में व्यापारियों के साथ गोलीबारी और लूट डकैती की आधा दर्जन से अधिक घटनाओं के अपराधियों से भाजपा सरकार पकड़ नहीं पाई थी। भाजपा के राज में राजधानी में कर्ज वसूली के कर्जदार की पत्नी के साथ अपहरण करके सामूहिक बलात्कार की घिनौनी घटना हुई थी। लोग अभी तक नहीं भूले है कैसे भाजपा राज में अपराधियो ने एक महिला सिपाही के साथ सामूहिक बलात्कार किया था। लोग अटारी और नये रायपुर के घृणित बलात्कार दुराचार को अभी तक नहीं भूले है। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा कानून व्यवस्था के बारे में कुछ भी बोलने के पहले अपने गिरेबान में झांके। कांग्रेस की सरकार राज्य के लोगो की सुरक्षा के प्रति और प्रदेश की कानून व्यवस्था को चुस्त दुरूस्त करने के लिये प्रतिबद्ध हैं। राज्य के लोगो की सुरक्षा और राज्य के नागरिकों को जीवन जीने के लिये सुरक्षित वातावरण बनाये रखना कांग्रेस सरकार की प्राथमिकता में है।

 

error: Content is protected !!