कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाने की हड़बड़ी में मर्यादा की सारी हदे पार : त्रिवेदी

०० छत्तीसगढ़ में भाजपा की बुरी तरह से पराजय के बाद से ही अपना मानसिक संतुलन खो बैठे है अनिल जैन : कांग्रेस

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रभारी अनिल जैन की ओर से मंत्री की आपत्तिजनक सीडी मामले की जांच छत्तीसगढ़ से बाहर अन्य राज्य में कराये जाने की मांग पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि अब तो अनिल जैन ने कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाने की हड़बड़ी में मर्यादा की सारी हदो को ही पार कर दिया है। अनिल जैन भाजपा के प्रदेश प्रभारी है। अनिल जैन को इतनी जानकारी जरूर होगी कि पूर्व मंत्री राजेश मूणत की आपत्तिजनक सीडी मामले की जांच भाजपा की ही केन्द्र सरकार की एजेंसी सीबीआई कर रही थी और सीबीआई जांच पूरी करके मामले की चार्जशीट अदालत के समक्ष प्रस्तुत कर चुकी है। ऐसे में जांच को अन्य राज्य में शिफ्ट करने की अनिल जैन की मांग उनके मानसिक दिवालिया का जीता-जागता सबूत है।
शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है भाजपा प्रदेश प्रभारी अनिल जैन कांग्रेस सरकार पर आरोप मढ़ने के लिये सारी मर्यादायें ताक पर रखकर झूठ का सहारा ले रहे हैं। भाजपा के प्रदेश प्रभारी अनिल जैन यह भी बताये कि क्या रमन सरकार के भ्रष्टाचार और उन गलत कामों की जांच करना भी पाप है, जिनके कारण भाजपा सरकार को छत्तीसगढ़ के मतदाताओं ने नकार दिया ? त्रिवेदी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की जर्बदस्त पराजय के बाद भाजपा में रोज बढ़ रही अंदरूनी कलह, भाजपा नेताओं के बीच आपसी लड़ाई झगड़ो और छत्तीसगढ़ भाजपा में नित नये आंतरिक विवादों से भाजपा के प्रदेश प्रभारी अनिल जैन हताश और परेशान हो चुके हैं।  छत्तीसगढ़ भाजपा के हालात अनिल जैन से संभाल नहीं पा रहे हैं। 15 विधायकों वाली भाजपा में 9 विधायक नेता प्रतिपक्ष के दावेदार थें। अब प्रदेश अध्यक्ष के लिये 7 से अधिक भाजपा नेता एक दूसरे के ऊपर कीचड़ उछाल कर अध्यक्ष का पद हथियाने में लगे है। टुकड़ों और गुटों में बंटी भाजपा के नेताआें में 15 वर्षों तक रही सत्ता का अहंकार अभी तक समाप्त नहीं हो पाया है। 15 वर्षों तक भ्रष्टाचार से कमाई अकूत संपदा के नशे में मदमस्त भाजपा नेता पत्रकारों और अपने ही कार्यकताओं से बदतमीजी करने पर उतारू है। छत्तीसगढ़ में भाजपा को बेलगाम अराजक नेताओें की पार्टी बनने के लिये प्रभारी अनिल जैन का मानसिक संतुलन खोना भी जिम्मेदार है। त्रिवेदी ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में भाजपा की बुरी तरह से पराजय के बाद से ही अनिल जैन अपना मानसिक संतुलन खो बैठने के कारण ही अनिल जैन भाजपा पदाधिकारियो से पत्रकारों पर हमला भी करवाते है क्या ?

error: Content is protected !!