केरोसीन हॉकरों की मांगों को लेकर भाजपा की रमन सरकार बेपरवाह : डॉ चरण दास महंत 

०० केरोसीन हॉकरों को न्याय दिलाने, संबंधित विभागों के मंत्रियों को डॉ महंत ने लिखा पत्र

रायपुर| छत्तीसगढ़ काँग्रेस कमेटी के चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ चरण दास महंत ने छत्तीसगढ़ में किरोसीन हॉकर रिक्शा महासंघ की मांगों को लेकर संबंधित विभागों के मंत्रियों को पत्र लिखा है और मांग की है कि लगभग 1700 परिवार जो कि केरोसिन वितरण के व्यवसाय से जुड़े हुए हैं उनको छत्तीसगढ़ कि भाजपा सरकार ने लगभग बेरोज़गारी की कगार पर लाकर खड़ा कर दिया है। इन परिवारों की आज स्थिति यह है कि यह लोग होटलों में काम करने और झाड़ू पोछा लगाने जैसे काम करने के लिए मजबूर हो गए हैं। 

गौरतलब है कि केरोसिन हॉकर रिक्शा महासंघ ने इसके पूर्व भी अपनी मांगों को लेकर प्रदेश में और खासकर प्रदेश की राजधानी रायपुर में एक बहुत बड़ा आंदोलन किया था जिसमें कुछ लोगों की मृत्यु भी हो चुकी है, लेकिन सरकार ने आश्वासन देकर आंदोलन तो खत्म करा दिया परंतु आज तक उस संदर्भ में कोई कार्यवाही नहीं हुई थी केरोसिन हॉकर महासंघ की मांग है कि पहले राज्य सरकार की ओर से 600 लीटर मिट्टी तेल वितरण के लिए मिलता था परंतु राज्य सरकार ने उसे घटाकर अब मात्र 85 लीटर कर दिया है जिससे इन केरोसिन हॉकरों की रोजी रोटी पर संकट आ गया है।  केरोसीन हॉकर रिक्शा महासंघ के सदस्यों ने अपनी व्यथा को लेकर कांग्रेस कमेटी के दिग्गज नेता डॉ चरण दास महंत के पास गए जिसके फलस्वरूप डॉ चरणदास महंत ने इस संदर्भ में संबंधित विभागों के मंत्री पुन्नूलाल मोहले, मंत्री, खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण, छग शासन, रायपुर और रामविलास पासवान केंद्रीय खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री, भारत सरकार को पत्र लिख कर इनकी मांगों पर उचित कार्यवाही करने की मांग की है।  डॉ चरण दास महंत ने उनकी समस्याओं को सुनकर उन्हें आश्वासन दिया कि अगर छत्तीसगढ़ राज्य में कांग्रेस की सरकार आती है तो उनकी मांगों पर त्वरित कार्रवाई की जाएगी। 

 

error: Content is protected !!