स्वास्थ्य मंत्री अजय चन्द्राकर ने मुक्तांजली शव वाहनों को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना

०० टोल फ्री नम्बर-1099 डायल कर ले सकते है निःशुल्क शव वाहन की सेवा

रायपुर| स्वास्थ्य मंत्री अजय चन्द्राकर ने आज राजधानी रायपुर के नवीन विश्राम भवन से मुक्तांजली  निःशुल्क शव वाहन योजना-टोल फ्री नम्बर-1099के तहत 60 शव वाहन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। योजना के तहत ये शव वाहन पूरे प्रदेश के शासकीय अस्पतालों में सेवाएं प्रदान करेगी।राज्य शासन द्वारा  प्रदेश  के किसी भी गरीब परिवार के व्यक्ति के मृत्यु होने पर शव को निःशुल्क और ससम्मान उनके घर तक  पहुंचाने के लिए‘मुक्तांजलि निःशुल्क शव वाहन-1099ट योजना प्रारंभ की गई है।

वर्ष 2012-13 से राज्य के सभी जिलों के प्रमुख अस्पतालों में  यह सेवा निःशुुल्क उपलब्ध है। अब शव  वाहन नयी टाटा ऐस गोल्ड के चेचिस पर फेब्रीकेषन कर बनाई गई है, जिसमें बाह्य साज-सज्जा  में योजना का  नाम एवं उपलब्धता को प्रदर्शित किया गया है। मृतक के परिजनों के  परेशानी मुक्त यात्रा के लिए चालक व केबिन  की  अलग-अलग संरचना की गयी है। परिजनों के लिए पंखों के साथ एक तरफ सुविधा जनक सीटों की  व्यवस्था  के साथ ही मृतक शरीर को रखने के लिए उन्नत मंच तथा  मृतक शरीर स्थानांतरण के लिए स्ट्रेचर व बोर्डिंग सुविधा  उपलब्ध कराया गया है। इस मौके पर स्वास्थ्य विभाग की सचिव श्रीमती निहारिका सिंह बारिक, आयुक्त सह संचालक श्रीआर. प्रसन्ना, संचालक डॉ सर्वेश्वर नरेन्द्र भूरे, छत्तीसगढ़ मेडिकल कार्पोरेशन के प्रबंध संचालक श्री व्ही रामाराव, संचालक महामाहरी डॉ. आर.आर.साहनी, रायपुर जिला के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ अधिकारी डॉ. एस.के. शाडिल्य सहित संबंधित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

error: Content is protected !!