सेक्शन डिप्टी कमांडर सहित 9 नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

०० प्लाटून नंबर 24 की सेक्शन डिप्टी कमांडर हिड़में पर था 3 लाख रुपए का इनाम

०० आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों में 4 महिलाएं और 10 हजार का इनामी नक्सली भी हैं शामिल

रायपुर/जगदलपुर| दंतेवाड़ा के सीआरपीएफ डीआईजी डीएन लाल के सामने प्लाटून नंबर 24 की सेक्शन डिप्टी कमांडर हिड़में उर्फ मड़कामी गंगी ने आत्मसमर्पण कर दिया। पुलिस की ओर से इसके ऊपर 3 लाख रुपए का इनाम रखा गया था। 

आत्मसमर्पण करने वाली महिला डिप्टी कमांडर मड़कामी कई गंभीर वारदातों में शामिल रही है। उसके हमलों के दौरान कई जवान शहीद हो चुके हैं। अगस्त 2015 में दरमा के पास जीरम क्षेत्र में हुई सीआरपीएफ जवानों और नक्सलियों की मुठभेड़ में सीआरपीएफ के डिप्टी कमांडर शहीद हो गए थे। वर्ष 2015 में ही बस्तर में कोलेंग के सरपंच पांडू बघेल की माओवादी कमांडर विनोद हेमलाए मासा अौर अन्य नक्सलियों के साथ मिलकर हत्या कर दी थी। वर्ष 2014 में सुकमा के बामन कोवासी की मुखबिरी की संदेह में हत्या कर दी थी। वर्ष 2012 में किंरदुल में नक्सलियों के साथ सीआईएसएफ टीम पर हमला किया था, जिसमें 6 जवान शहीद हो गए थे। 

10 हजार का इनामी सहित 4 महिला नक्सली भी शामिल :- बस्तर रेंज आईजी विवेकानंद सिन्हा के सामने गुरुवार को महिला जनमिलिशिया कमांडर सहित 8 नक्सलियों ने सरेंडर कर दिया। सरेंडर करने वाले नक्सलियों में 4 महिलाएं और 10 हजार का इनामी नक्सली भी शामिल हैं। यह भी नक्सली बस्तर और नारायणपुर के क्षेत्रों में सक्रिय थे। 

कई वारदातों में शामिल था बारसूर एरिया कमेटी का सदस्य :-आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों में बारसूर  एरिया कमेटी का सदस्य सनकू उर्फ पांडेय भी शामिल है। सनकू वाहन जलाने और अन्य तमाम वारदातों में शामिल था। पुलिस  की अेार से इस पर 10 हजार रुपए का इनाम रखा गया था। इसके अलावा कोंडागांव निवासी जयमति उर्फ रिंकी उर्फ कोली भी शामिल है। यह जनमिलिशिया कमांडर थी। इनके साथ दरभा निवासी देवली कुहरामी, कोंडागांव निवासी मनती कश्यप, मसूरराम, बीसनाथ, असंती उर्फ प्रमिला और बिसूराम शामिल है। यह सभी जनमिलिशिया सदस्य थे और  बस्तर व नारायणपुर जिले के मारडूम,ककनार,बारसूर,मर्दापाल ग्रामों मे सक्रिय रहे। 

 

error: Content is protected !!