विकास नाम की चिडिय़ा कांग्रेस का खेत चुगकर कब की हो गई है फुर्र : कौशिक

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल के ट्वीट पर पलटवार किया है। कौशिक ने कहा कि विकास नाम की चिडिय़ा तो कांग्रेस का खेत चुगकर कब की फुर्र हो गई है। कांग्रेस की राजनीतिक जमीन बंजर हो गई है जिसका नतीजा यह है कि 15 सालों से कांग्रेस छत्तीसगढ़ की सत्ता से बाहर बैठी बिलबिला रही है और केन्द्र में 44 सीटों पर सिमटकर रह गई है। यही हाल देश के उन सभी राज्यों का भी है जहां आज भाजपा और सहयोगी दलों की सरकारें काम कर रही हैं। 
कौशिक ने कहा है कि दरअसल कांग्रेस विकास नाम की चिडिय़ा को जानती ही नहीं। यदि विकास की चिडिय़ा को समय रहते कांग्रेस पहचानकर उसका समुचित पालन-पोषण करती तो आज कांग्रेस अपने राजनीतिक इतिहास के सबसे शर्मनाक दौर में न होती। अगर अब भी कांग्रेस के नेता विकास के नाम पर भाजपा सरकार पर तंज कसते रहे तो कांग्रेस का रहा-सहा अस्तित्व भी खत्म हो जायेगा। 
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि छत्तीसगढ़ में भाजपा सरकार के 15 वर्षों के शासनकाल में विकास के नित-नये आयाम स्थापित हुए हैं। करोड़ों के विकास कार्य अभी प्रगति पर हैं। विकास नाम की चिडिय़ा से पूरे छत्तीसगढ़ को रू-ब-रू कराने का काम भाजपा सरकार ने बखूबी किया है और विकास के नित-नए प्रतिमान गढऩे के लिए भाजपा भविष्य में भी प्रतिक्षण प्रतिबद्ध रहेगी। कांग्रेस पहले अपने बंजर हो चले राजनीतिक खेत की चिंता करे, जिसे चुगकर विकास की चिडिय़ा फुर्र हो गई है। कांग्रेस के पास अब पछताने और हाथ मलते रहने के अलावा कुछ नहीं बचा है।

error: Content is protected !!