पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में 5 लाख का इनामी नक्सली  कमांडर ढेर

०० नक्सली धमतरी जिले के मेचका में बंद बुलाने और विधानसभा चुनाव के बहिष्कार को लेकर कर रहे थे बैठक

०० नक्सली कमांडर के शव के पास से पुलिस को 9 एमएम की पिस्टल, दैनिक उपयोग की सामग्री, दवाइयां और नक्सली पर्चे बरामद

रायपुर। धमतरी जिले में हुई पुलिस और नक्सली मुठभेड़ में सोमवार को जवानों ने 5 लाख के इनामी एलओएस कमांडर जयसिंह को मार गिराया, मारा गया नक्सली गोबरा एरिया कमेटी का सदस्य था। नक्सली मेचका में बंद बुलाने और विधानसभा चुनाव के बहिष्कार को लेकर बैठक कर रहे थे। दोनों ओर से हुई फायरिंग में नक्सली जंगल का फायदा उठाते हुए भाग निकले।

आईजी दीपांशु काबरा ने बताया कि सोमवार को मेचका के ग्राम मंदागिरी के आस-पास नक्सलियों की मीटिंग होने की सूचना मिली थी। इस पर एसपी नक्सल ऑपरेशन की ओर से 4 सर्चिंग टीम बनाई गई। जिसमें ई-30, एसओजी और खल्लारी थाने की टीम शामिल थी। टीम मौके पर जा रही थी कि तभी मंदागिरी-तेंदुडोंगरी की पहाड़ी के पास नक्सलियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाब में जवानों ने भी फायरिंग की तो नक्सली भागने लगे। इस पर ई-30 टीम ने उनका पीछा किया। इसी दौरान एक ओर से जयसिंह और रामदास ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाब में टीम ने फायरिंग की तो जयसिंह मारा गया अौर रामदास जंगल का फायदा उठाकर भागने में कामयाब रहा। मारे गए नक्सली कमांडर के शव के पास से पुलिस को 9 एमएम की एक पिस्टल, दैनिक उपयोग की सामग्री, दवाइयां और नक्सली पर्चे बरामद हुए हैं। वायरलेस से मुठभेड़ में नक्सली के मारे जाने की सूचना पर थाने से रिजर्व फोर्स को भी रवाना किया गया। इस मुठभेड़ में किसी भी जवान को नुकसान नहीं हुआ है। 

error: Content is protected !!