सभी के सहयोग से छत्तीसगढ़ बनेगा कुपोषण मुक्त प्रदेश: मंत्री श्रीमती रमशिला साहू

०० मंत्री श्रीमती साहू ने राष्ट्रीय पोषण माह का किया शुभारंभ

०० मंत्री और उपस्थित जनप्रतिनिधियों ने कुपोषण के शिकार बच्चों को बांधा पोषण रक्षा सूत्र

रायपुर| छत्तीसगढ़ सरकार की महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती रमशिला साहू ने कहा है सरकार और समाज के सहयोग से छत्तीसगढ़ जल्द ही कुपोषण मुक्त प्रदेश बनेगा। वर्ष 2004 में प्रदेश में कुपोषण का प्रतिशत 47 था, मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के नेतृत्व में महिलाओं और बच्चों के लिए संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं और उसमें लोगों की भागीदारी से आज यह घटकर 26 प्रतिशत हो गया है। शतप्रतिशत कुपोषण मुक्त राज्य बनाने तथा इसे एक जनआदोलन का रूप प्रदान करने के लिए छत्तीसगढ़ में 10 नवम्बर को मुख्यमंत्री सुपोषण मिशन की नींव रखी गई और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा ने 8 मार्च 2018 को राष्ट्रीय पोषण अभियान का शुभारम्भ किया गया है। श्रीमती साहू आज यहां जिले के तिल्दा के नगर भवन में आयोजित राष्ट्रीय पोषण माह कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए उपरोक्त बातें कही। इस अवसर पर बालौदा-बाजार के विधायक श्री जनकराम वर्मा, महिला एवं बाल विकास विभाग की सचिव डॉ. एम. गीता भी उपस्थित थीं।
श्रीमती साहू और उपस्थित अतिथियों ने इस अवसर पर कुपोषण के शिकार बच्चों को पोषित बनाने के लिए उन्हें पोषण रक्षा सूत्र भी बांधा। साथ ही कुपोषण में कमी लाने में उल्लेखनीय कार्य करने  वाली किशोरी बालिकाओं, सरपंच व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और नागरिकों को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। मंत्री श्रीमती रमशिला साहू ने कहा कि प्रदेश में तीन लाख बाल मित्र और 45 हजार आंगनबाड़ी मित्र कुपोषण मुक्ति इस अभियान में आगे आकर सहयोग दे रहे है। उन्होंने लोगों से अपील की कि अपने परिवार और समाज को स्वस्थ बनाने के लिए सभी इस जनआंदोलन में सहभागी बने तभी हम अपने राज्य को कुपोषण मुक्त राज्य बनाने में सफल हो सकेंगे। तिल्दा के लोगों ने कुपोषण मुक्ति अभियान में अच्छा सहयोग दिया है और जतन फाउण्डेशन के सहयोग से 10 ग्राम पंचायतों को पूर्णतः कुपोषण मुक्त पंचायत बनाने का सराहनीय उदाहरण प्रस्तुत किया है। उन्होंन इसके लिए जतन फाउण्डेशन के श्री राजेन्द्र वर्मा और सुश्री मंजूला साहू को उनके योगदान के लिए बधाई भी दी। श्रीमती साहू ने बताया कि महतारी जतन योजना, अमृत योजना, नवाजतन योजना जैसी अनेक योजनाएं सरकार द्वारा संचालित की जा रही है और इसके आशा जनक परिणाम भी प्राप्त हो रहे है। बलौदा-बाजार के विधायक श्री जनकराम वर्मा ने कहा कि 10 ग्राम पंचायतों की तरह हम आने वाले दिनों में तिल्दा विकासखण्ड को प्रदेश में प्रथम कुपोषण मुक्त विकासखण्ड बनाएंगे। विभाग की सचिव डॉ. एम. गीता ने कहा कि सितंबर माह को राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है। और इस दौरान में इसमें समूदाय की सहभागिता सुनिश्चित कर इसे जन आंदोलन बनाया जाएगा। इस अवसर पर नगर पालिका अध्यक्ष श्री महेश अग्रवाल, पूर्व विधायक श्री लक्ष्मी वर्मा, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती लक्ष्मी वर्मा, श्रीमती अरूणा रानी बघेल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री दीपक सोनी, एसडीएम श्री संदीप अग्रवाल, संयुक्त संचालक श्री प्रतीक खरे, जिला अधिकारी श्री अशोक पांडेय सहित बड़ी संख्या में समूह की महिलाएं और आंगनबाड़ी कार्यकर्तांए और सहायिकाएं उपस्थित थी।  

 

error: Content is protected !!